जमीन रजिस्ट्री का लक्ष्य पूर्ण नहीं, अब तक 25 करोड़ प्राप्त हुए

जमीन रजिस्ट्री का लक्ष्य पूर्ण नहीं, अब तक 25 करोड़ प्राप्त हुए
जमीन रजिस्ट्री का लक्ष्य पूर्ण नहीं, अब तक 25 करोड़ प्राप्त हुए


रविवार को वित्तीय वर्ष का अंतिम दिन, रात 11 बजे तक होगी रजिस्ट्री

धमतरी, 31 मार्च (हि.स.)। जमीन की खरीदी-बिक्री की रजिस्ट्री से शासन को वर्ष भर के भीतर 25 करोड़ 38 लाख 7970 रुपये का राजस्व लाभ मिला है। जबकि शासन ने जिला पंजीयन विभाग को 29 करोड़ रुपये का लक्ष्य दिया है। साल भर में लक्ष्य पूर्ण नहीं हो पाया।

छत्तीसगढ़ शासन को सबसे बड़ा राजस्व आय जमीन की रजिस्ट्री शुल्क में लगने वाले स्टांप और पंजीयन से होती है। वर्ष 2022-23 में धमतरी पंजीयन विभाग को 23 करोड़ का लक्ष्य दिया गया था। इसके एवज में विभाग ने 26 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया था। तीन करोड़ रुपये अतिरिक्त लाभ प्राप्त हुआ। इसमें 6168 लोगों ने रजिस्ट्री करायी। वर्ष 2023-24 के लिए शासन ने 29 करोड़ रुपये का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके एवज में अप्रैल 2023 से 30 मार्च 2024 तक की स्थिति में 25 करोड़ 38 लाख 7970 रुपये की आमदनी हुई है। रविवार की रात 11 बजे तक पंजीयन होगा। जिसमें राजस्व आय में और बढ़ोत्तरी हो सकेगी। अब तक 6056 लोगों ने पूरे साल भर में रजिस्ट्री कराई है। उपरजिस्ट्रार सुशील कुलार देहारी के अनुसार प्रतिदिन 60 से 65 रजिस्ट्री हो रही है। अंतिम दिन 100 से अधिक रजिस्ट्री होने की संभावना है।

हिन्दुस्थान समाचार/ रोशन सिन्हा

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story