धमतरी जिले के नगरी में आंधी-तूफान से तबाही, हुई तेज वर्षा

धमतरी जिले के नगरी में आंधी-तूफान से तबाही, हुई तेज वर्षा
धमतरी जिले के नगरी में आंधी-तूफान से तबाही, हुई तेज वर्षा


जगह-जगह गिरे पेड़ व विद्युत पोल, आकाशीय बिजली नारियल पेड़ से टकराया

धमतरी, 9 जून (हि. स.)। धमतरी जिले के नगरी ब्लाॅक में शनिवार रात आंधी तूफान के साथ तेज वर्षा हुई। वर्षा से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। आकाशीय बिजली गिरने से कई पेड़ जल गए, वहीं विद्युत पोल भी गिर गए, इससे घंटों तक विद्युत आपूर्ति बाधित रही। धमतरी में आठ जून को मानसून प्रवेश किया। दूसरे दिन नगरी में तेज आंधी-तूफान ने जमकर तबाही मचाई। जगह-जगह पेड़ टूटकर गिर गए। विद्युत पोल झुक गए और तार जमीन पर गिर गया। वहीं आकाशीय बिजली नारियल पेड़ पर टकराया।

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले से होकर इस साल मानसून प्रवेश किया है। यही वजह है कि रात 11 बजे धमतरी, रूद्री समेत कई गांवों में करीब एक घंटे तक तेज वर्षा हुई है। दूसरे दिन नौ जून को अन्य दिनों की तरह धमतरी में सुबह से भारी गर्मी और उमस बना रहा। नगरी, सांकरा समेत आसपास के गांवों में आंधी-तूफान व बारिश से भारी नुकसान हुआ। नगरी-सांकरा के कई गलियों में पेड़ टूटकर गिर गए, इससे मार्ग अवरुद्ध रहा। सांकरा के कोड़मूड़ पारा निवासी प्रकाश मरकाम के घर में लगे नारियल पेड़ पर आकाशीय बिजली टकरा गई, इससे नारियल के पेड़ में आग लग गई। आगजनी से किसी तरह भारी नुकसान नहीं हुआ है। नगर पंचायत नगरी के कुछ गली-मोहल्लों में आंधी-तूफान के चलते विद्युत पोल जमीन पर झुक गया है। तार जमीन पर गिर आया है, इससे वार्डाें व आसपास जगहों पर घंटों विद्युत प्रभावित रहा। तेज वर्षा से अब अंचल में खेती किसानी के कार्य में तेजी आएगी।

हिंदुस्थान समाचार/ रोशन सिन्हा

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story