राष्ट्रनिर्माण में युवाओं की भूमिका अहम : डॉ. रमन सिंह

राष्ट्रनिर्माण में युवाओं की भूमिका अहम : डॉ. रमन सिंह
WhatsApp Channel Join Now
राष्ट्रनिर्माण में युवाओं की भूमिका अहम : डॉ. रमन सिंह


राष्ट्रनिर्माण में युवाओं की भूमिका अहम : डॉ. रमन सिंह


राष्ट्रनिर्माण में युवाओं की भूमिका अहम : डॉ. रमन सिंह


विधानसभा स्थित प्रेक्षागृह में ‘‘नेहरू युवा केन्द संगठन’’ द्वारा राज्य युवा सभा आयोजित

रायपुर, 5 जुलाई (हि.स.)। छत्तीसगढ़ में ग्रामीण युवाओं को राष्ट्र निर्माण की गतिविधियों में शामिल करने ‘‘नेहरू युवा केन्द, संगठन’’ छत्तीसगढ़, रायपुर द्वारा शुक्रवार को एक दिवसीय ‘‘राज्य युवा सभा’’ का आयोजन विधानसभा परिसर स्थित डॉ. श्यामा प्रसाद मुकर्जी, प्रेक्षागृह में संपन्न हुआ। कार्यक्रम का उद्घाटन विधानसभा अध्यक्ष डॉ. रमन सिंह के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ।

इस अवसर पर वन मंत्री केदार कश्यप, छत्तीसगढ़ विधान सभा के सचिव दिनेश शर्मा, नेहरू युवा केन्द्र के राज्य निदेशक श्रीकान्त पाण्डेय, यूनिसेफ उड़िसा और छत्तीसगढ़ के प्रमुख विलियम-हेडलान, श्वेता पटनायक एवं अभिषेक सिंह उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में 146 विकासखंड के लगभग 180 विद्यार्थियों ने भाग लिया।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने कहा कि जब भी धरती में पृथ्वी एवं जलवायु का संतुलन बिगड़ता है तो उसकी त्रासदी पूरी दुनिया को झेलनी पड़ती है। कोविड के दौर में आक्सीजन का प्रभाव पूरी दुनिया ने देखा है, इसलिए हमारा प्रयास होना चाहिए कि वृक्षारोपण एवं पर्यावरण सुधार कर लोगों के जीवनस्तर को आगे बढ़ाने का प्रयास किया जाये। लोगों को शुद्व आक्सीजन मिल सके इसके लिए देश एवं प्रदेश में ‘आक्सीजोन’’का निर्माण किया जाना चाहिए। धरती में पानी के गिरते हुए स्तर पर चिंता व्यक्त करते हुए डॉ. रमन सिंह ने कहा कि धरती में 97 प्रतिशत पानी समुद्र का है एवं खारा है, बचे हुए तीन प्रतिशत पानी में से 2.5 प्रतिशत पानी ग्लेशियर का है। इसलिए पानी के बचाव एवं उसके संरक्षण का भी पूरा प्रयास किया जाना चाहिए। बढ़ते हुए तापमान पर चिंता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि इस वर्ष दिल्ली का तापमान 52 डिग्री तक पहुंच गया था। जंगल कटेंगे पेड़ नहीं लगेंगे तो धरती का संतुलन कैसे होगा, सभी घरों में सौर ऊर्जा लगाये जाने एवं सभी घेरों में वाटर रीचार्ज करने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि युवा आगे बढ़े और प्रदेश को आगे ले जायें।

इस अवसर पर वन मंत्री केदार कश्यप ने कहा कि 45 प्रतिशत से अधिक वन संपदा छग राज्य में है, अतः जलवायु परिवर्तन जैसे महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा रखी, मै आप सभी को बधाई देता हॅं। छग को एक विकसित राज्य बनाने में विधानसभा अध्यक्ष ने हमेशा सहयोग किया और मैं जहां भी जाता हूं, वहां पर लोग ‘‘आक्सीजोन’’ बनाने की मांग करते हैं। उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन पर चिंता करने की ओर कार्य करने की आवश्यकता है। एवं पूरे प्रदेश में वृक्षारोपण करना यह हम सब की सामूहिक जवाबदारी है।

इसके पूर्व विधानसभा सचिव दिनेश शर्मा ने कहा कि युवा शक्ति अक्षय ऊर्जा के स्रोत होते हैं, युवा राष्ट्र का भविष्य होते हैं एवं युवाओं की भूमिका का समाज एवं देश को सकारात्मक उपयोग करना चाहिए। कार्यक्रम के अंत में ‘‘नेहरू युवा केन्द्र संगठन’’ के अर्पित तिवारी द्वारा सभी उपस्थित जनों के प्रति आभार व्यक्त किया गया।

हिन्दुस्थान समाचार/ चंद्रनारायण शुक्ल

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story