कोरबा: राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का बच्चों को एलबेंडाजोल की गोली खिलाकर अभियान का किया शुभारंभ

कोरबा: राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का बच्चों को एलबेंडाजोल की गोली खिलाकर अभियान का किया शुभारंभ


कोरबा: राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का बच्चों को एलबेंडाजोल की गोली खिलाकर अभियान का किया शुभारंभ


कोरबा: राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का बच्चों को एलबेंडाजोल की गोली खिलाकर अभियान का किया शुभारंभ


कोरबा: राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का बच्चों को एलबेंडाजोल की गोली खिलाकर अभियान का किया शुभारंभ


















































जिले के 4 लाख 95 हजार 028 बच्चो को दी जाएगी एलबेंडाजोल की खुराक

कोरबा, 10 फरवरी (हि.स.)। कलेक्टर अजीत वसंत के मार्गदर्शन में कोरबा नगरीय क्षेत्र के शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में कोहड़िया वार्ड क्रमांक 16 के पार्षद नरेन्द्र देवांगन ने बच्चों को कृमिनाशक दवा एलबेंडाजोल की गोली खिलाकर जिले में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का शुभारंभ किया।

इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसएन केशरी, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. कुमार पुष्पेश, विद्यालय के प्राचार्य रंधीर सिंह एवं स्टाफ सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी कर्मचारी, स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं स्कूल के छात्र छात्राएँ उपस्थित थे।

इस अवसर पर पार्षद देवांगन ने कहा कि बच्चों में बढ़ते कुपोषण की रोकथाम एवं उनके शारीरिक व मानसिक विकास के लिए जिले के शत प्रतिशत बच्चों को एलबेंडाजोल की खुराक खिलाना आवश्यक है।

सीएमएचओ डॉ. केशरी द्वारा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि 10 फरवरी 2024 को जिले के सभी ऑगनबाड़ी केन्द्रों, शासकीय/ शासकीय अनुदान प्राप्त शालाओं / केन्द्रीय विद्यालयों / नवोदय विद्यालयों /मदरसों/निजीस्कूलों / महाविद्यालयों / तकनीकि शिक्षा संस्थानों में 01 से 19 वर्ष के बच्चों, किशोर /किशोरियों को एलबेंडाजोल (कृमिनाशक) की दवा खिलायी जाएगी साथ ही दवा के सेवन से वंचित बच्चों को 15 फरवरी 2024 को मॉपअप दिवस पर दवा का सेवन कराया जाएगा। जिससे बच्चों का स्वास्थ्य एवं पोषण स्तर में वृद्धि, एनीमिया की रोकथाम के साथ ही बौद्धिक विकास तथा शाला में उपस्थिती में सुधार हो सके। उन्होंने बताया कि जिले में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस अंतर्गत 1 से 19 वर्ष के कुल

4, 95, 028 बच्चों को कृमि नाशक दवाई खिलाने का लक्ष्य है। जिसके अंतर्गत 01 से 05 वर्ष तक के बच्चों को ऑगनबाड़ी केन्द्रों में दवा का सेवन कराया जाएगा तथा 6 से 19 वर्ष के बच्चों को स्कूलों में दवा

खिलाई जाएगी। 01 वर्ष से 02 वर्ष तक के बच्चों को एलबेंडाजोल की आधी गोली, 02 वर्ष से 03 वर्ष तक के बच्चों को पूरी एक गोली चूरा/पीसकर पानी के साथ सेवन कराया जाएगा तथा 03 वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों को पूरी एक गोली चबाकर पानी के साथ खिलाया जाएगा।

कलेक्टर अजीत वसंत एवं सीएमएचओ ने जिले के नागरिको, जनप्रतिनिधियों, ऑगनबाड़ी कार्यकर्ता व मितानिनों से अपने तथा अपने क्षेत्र के 01 से 19 वर्ष तक के बच्चों को कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर स्कूल/कॉलेज तथा ऑगनबाड़ी केन्द्रों में एलबेंडाजोल की दवाई खिलाने तथा छूटे हुए बच्चों को 15 फरवरी को मॉपअप दिवस पर अनिवार्य रूप से दवाई खिलाने का आग्रह किया है। एलबेंडाजोल की दवा बच्चों में एनिमिया को कम और पोषण में सुधार ग्रोथ और वजन बढ़ना, मानसिक एवं शारीरिक विकास तथा अन्य सक्रमणों के लिए शरीर मे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती हैं ।

हिन्दुस्थान समाचार/ हरिश तिवारी

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story