लोकसभा चुनाव : राजनीति में झोला छाप डाक्टर जैसी मानसिकता खतरनाक : पूनम पटेल सोलंकी

मेनका सिंह के बयान पर पलटवार कर कहा, ओपी के बढ़ते कद से बौखलाई कांग्रेस

रायगढ़ , 1 अप्रैल (हि.स.)। रायगढ़ लोकसभा हेतु कांग्रेस अधिकृत उम्मीदवार मेनका सिंह द्वारा आईएएस को बड़ा मंत्री बनाए जाने संबंधी बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा नेत्री एवं नेता प्रतिपक्ष पूनम पटेल सोलंकी ने सोमवार को बयान जारी कर कहा कि झोला छाप डॉक्टर समाज एवं राजनीति दोनों के लिए नुकसान देह साबित होते हैं। भाजपा नेत्री पूनम पटेल सोलंकी ने कहा कि पूर्व आईएएस ओपी चौधरी की लोकप्रियता से कांग्रेस घबरा गई है। पिछले विधान सभा चुनाव में रायगढ़ में मिली बड़ी हार के सदमे से अभी तक कांग्रेस उबर नहीं पाई है। भाजपा की मोदी सरकार ने एक विशेष परिवार पर आश्रित कांग्रेस की राजनीति को आसमान से धरती पर ला दिया है।

कांग्रेस की स्थिति बदहाल बताते हुए भाजपा नेत्री ने कहा कि रायगढ़ लोकसभा के लिए बहुत से दावेदारों को चुनाव लड़ने के लिए पार्टी के बड़े नेताओं ने हाथ पैर जोड़े हैं उनके इनकार करने के बाद मजबूरी कांग्रेस ने मेनका सिंह को उम्मीदवार बनाया है। मेनका सिंह को पिछले दो दशक से राजनीति में अपना सामाजिक योगदान बताना चाहिए, जबकि राधेश्याम राठिया पिछले दो दशक से राजनीति में सक्रिय हैं। पूर्व आईएएस का उल्लेख कर इशारे से रायगढ़ विधायक को निशाना बनाए जाने पर भाजपा नेत्री ने कहा कि मेनका सिंह को अपने सेवा का इतिहास बताना चाहिए। परिवार वाद मानसिकता से पार्टी अभी तक नहीं उबर पाई है। कांग्रेस ने हर बार उम्मीदवार बदले, लेकिन लोकसभा की जनता ने सदा कमल निशान पर विश्वास जिताया है। रायगढ़ लोकसभा उम्मीदवार राधेश्याम राठिया की ऐतिहासिक जीत की संभावना बताते हुए नेता प्रतिपक्ष पूनम पटेल सोलंकी ने कहा कि बासी हुई कढ़ी में उबाल आ पाना मुश्किल है।

हिन्दुस्थान समाचार/ रघुवीर प्रधान

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story