अपराधों के विवेचना में फिंगर प्रिंट संबंधित प्रशिक्षण काफी उपयोगी साबित होगा - सुन्दरराज पी.

अपराधों के विवेचना में फिंगर प्रिंट संबंधित प्रशिक्षण काफी उपयोगी साबित होगा - सुन्दरराज पी.
अपराधों के विवेचना में फिंगर प्रिंट संबंधित प्रशिक्षण काफी उपयोगी साबित होगा - सुन्दरराज पी.


अपराधों के विवेचना में फिंगर प्रिंट संबंधित प्रशिक्षण काफी उपयोगी साबित होगा - सुन्दरराज पी.


जगदलपुर, 11 जून (हि.स.)। पुलिस मुख्यालय, नवा रायपुर द्वारा दिये गये निर्देशानुसार बस्तर संभाग मुख्यालय में शौर्य भवन, पुलिस कोआर्डिनेशन परिसर, लालबाग जगदलपुर में अपराध को लेकर प्रशिक्षण का शुभारंभ बस्तर आईजी सुन्दरराज पी. एवं पुलिस अधीक्षक, बस्तर शलभ कुमार सिन्हा द्वारा किया गया।

एनएएफआईएस विषय पर शौर्य भवन, पुलिस कोआर्डिनेशन परिसर, लालबाग जगदलपुर में 14 जून तक आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में संभाग के सभी जिले के अधिकारी एवं कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जावेगा। प्रशिक्षण हेतु विषय विशेषज्ञ द्वारा बस्तर संभाग के समस्त जिले के अधिकारी एवं बल सदस्यों प्रशिक्षण दिया जावेगा। बस्तर आईजी सुन्दरराज पी. ने बताया कि संपत्ति एवं शारीरिक अपराधों में विवेचना के स्तर को बेहतरीन करने हेतु पुलिस मुख्यालय के मार्गदर्शन अनुसार बस्तर पुलिस द्वारा लगातार विवेचक अधिकारी तथा अन्य बल सदस्यों को प्रशिक्षित की जा रही है। उन्होने कहा कि इस सिलसिले में फिंगर प्रिंट संबंधित यह प्रशिक्षण काफी उपयोगी साबित होगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस मुख्यालय, नवा रायपुर द्वारा जारी निर्देषों के तहत केन्द्र की महत्वाकांक्षी योजना एनएएफआईएस (National Automated Finger Print Identification System) राज्य के समस्त जिलों में संचालित है, जिसके द्वारा फिंगर प्रिंट का आपराधिक रिकार्ड राष्ट्रीय स्तर पर सर्च हेतु डिजीलाईजेशन, स्टोरिंग एवं प्रोसेसिंग किया जा रहा है तथा स्केन ऑफ क्राईम में लिफ्टेड चांस प्रिंट का का पूर्व आपराधिक रिकार्ड से सर्च कर आरोपियों का पतासाजी किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पूर्व में दिनांक 08 जून 2024 को 01 जुलाई 2024 से प्रभावशील होने वाले तीन नवीन कानून क्रमशः भारतीय न्याय संहिता, भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता एवं भारतीय साक्ष्य अधिनियम के संदर्भ में पुलिस एवं अभियोजन अधिकारियों का 01 दिवसीय प्रशिक्षण आयोजन किया गया था।

पुलिस अधीक्षक, बस्तर शलभ कुमार सिन्हा द्वारा अवगत कराया गया कि पुलिस विभाग के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारियों को बदलते हुये आपराधिक घटनाक्रमों की परिदृश्य हेतु अपने आपको जानकार व जागरूक बनाना अत्यंत आवश्यक है, तत्संबंध में लगातार विषय विशेषज्ञ के माध्यम से विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण शिविर आयोजित की जा रही है। जिससे पुलिस कार्यप्रणाली में सकारात्मक परिणाम लाया जा सके।

हिन्दुस्थान समाचार/ राकेश पांडे

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story