जगदलपुर : भाजपा के पूर्व मंत्री ने जूनियर व इंटर्न डॉक्टरों की हड़ताल को दिया समर्थन



जगदलपुर : भाजपा के पूर्व मंत्री ने जूनियर व इंटर्न डॉक्टरों की हड़ताल को दिया समर्थन


जगदलपुर : भाजपा के पूर्व मंत्री ने जूनियर व इंटर्न डॉक्टरों की हड़ताल को दिया समर्थन


60 से अधिक डॉक्टरों ने रक्तदान कर किया विरोध प्रदर्शन

जगदलपुर, 25 जनवरी (हि.स.)। मेडिकल कॉलेज डिमरापाल के जूनियर डॉक्टरों के साथ ही इंटर्न व अन्य डॉक्टर अपनी मानदेय में वृद्धि नही होने के कारण अनिश्चित कालीन हड़ताल पर है, डॉक्टरों की हड़ताल से मेकॉज सहित सभी जगहों पर स्वास्थ्य व्यवस्था प्रभावित हुई है। डॉक्टरों के विरोध प्रदर्शन में बुधवार को 60 से अधिक डॉक्टरों ने रक्तदान कर अपनी बात सरकार तक पहुंचाने का प्रयास किया।

पूर्व शिक्षा मंत्री केदार कश्यप डॉक्टरों का समर्थन करने के लिए मेकॉज पहुंचे, केदार कश्यप ने कहा कि 17 जनवरी से लगातार डॉक्टरों के द्वारा अपनी मांगों को पूरी करने के लिए हड़ताल कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री को प्रदेश के मरीजों की चिंता करनी चाहिए, स्वास्थ्य मंत्री जब खुद ही इन डॉक्टरों को मांग को जायज बताते हुए मांग को पूरी करने की बात कहते हैं तो फिर दिक्कत कहा आ रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री की आपसी लड़ाई के चलते स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से बत से बदत्तर हो रही है। मेकाज में भर्ती होने वाले मरीज उपचार नहीं होने के कारण निजी अस्पताल की ओर रुख कर रहे है। उन्होने कहा कि अन्य राज्यों की तरह छत्तीसगढ़ के डॉक्टरों को भी समान वेतन मिलना चाहिए।

हड़ताली डॉक्टरों का कहना है कि कम वेतन मिलने और मानदेय में 04 वर्ष के बाद भी किसी भी प्रकार से कोई भी वृद्धि नहीं होने पर छत्तीसगढ़ के जूनियर डॉक्टर से लेकर इंटर्न डाक्टर लगातार कई दिनों से अपनी मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे हैं। अस्पताल के वार्डो की स्थिति पूरी तरह से बिगड़ गई है, सीनियर डॉक्टर के अलावा कुछ डॉक्टर काम तो कर रहे हैं, लेकिन मरीज की स्थिति को देखते हुए परिजन मरीजों का जबरन छुट्टी कराकर या तो अपने घर ले जा रहे है या फिर निजी अस्पताल का सहारा ले रहे है। अपने विरोध प्रदर्शन के तहत डॉक्टरों के द्वारा अस्पताल परिसर के स्टैंड में ही दो बिस्तर लगाते हुए वहां पर 60 से अधिक डॉक्टरों ने रक्तदान किया।

हिन्दुस्थान समाचार/राकेश पांडे

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story