जगदलपुर : मुख्यमंत्री ने 133 करोड़ के 98 विकास कार्यों का किया लोकार्पण-भूमिपूजन



जगदलपुर 25 जनवरी (हि.स.)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने दो दिवसीय बस्तर प्रवास पर बुधवार को गिरोला में आयोजित कार्यक्रम में लगभग 133 करोड़ रुपये की लागत के 98 विकास कार्यों में 68 करोड़ 42 लाख 80 हजार रुपये के 27 कार्यों का लोकार्पण और 65 करोड़ 18 लाख 40 हजार रुपये के 71 विकास कार्यों का भूमिपूजन किया।

मुख्यमंत्री द्वारा गिरोला में आयोजित कार्यक्रम में लोक निर्माण विभाग द्वारा निर्मित 55 करोड़ 26 लाख 36 हजार रुपये की लागत के 18 विकास कार्यों का लोकार्पण किया। इनमें लगभग 24 करोड़ रुपये की लागत से बकावंड से कोलावल के बीच लगभग 26 किलोमीटर लंबी सड़क और पुल के चैड़ीकरण का कार्य, 18 करोड़ 17 लाख रुपये की लागत से रायकोट से कुरेंगा के बीच निर्मित 23 किलोमीटर लंबी सड़क, दो करोड़ 83 लाख रुपये की लागत से मारीगुड़ा से मैलबेड़ा के बीच छह किलोमीटर लंबी सड़क निर्माण, दो करोड़ 32 लाख रुपये की लागत से जेल में बैरक निर्माण कार्य, दो करोड़ सात लाख रुपए की लागत से दरभा में निर्मित 50 सीटर आईटीआई छात्रावास, एक करोड़ 44 लाख रुपये की लागत से किलेपाल में निर्मित 50 सीटर आईटीआई छात्रावास, लोक निर्माण विभाग की सेतु निर्माण विभाग द्वारा चार करोड़ 33 लाख रुपये की लागत से गंजोपारा से गुड़ियापारा के बीच निर्मित सेतु, मछलीपालन विभाग द्वारा तीन करोड़ 41 लाख रुपये की लागत से कोसारटेडा जलाशय में मछलीपालन के लिए केज स्थापना व फ्लोटिंग हाउस एवं गोदाम निर्माण, जगदलपुर नगर निगम द्वारा एक करोड़ 23 लाख तीन हजार और दो हजार किलोग्राम क्षमता के कंपोस्ट मशीन, एक करोड़ नौ लाख रुपये की लागत से सिटी ग्राउण्ड के सामने निर्मित 10 दुकान और 2 हाल व प्रवेश द्वार, 96 लाख रुपये की लागत से आमागुड़ा चैक में निर्मित दुकान, स्वास्थ्य विभाग द्वारा एक करोड़ 26 लाख रुपये की लागत से निर्मित एफ टाईप क्वार्टर सहित अन्य कार्य शामिल हैं।

मुख्यमंत्री द्वारा इसके साथ ही लगभग दो करोड़ 99 लाख रुपये की लागत से पाराकोट से सोसनपाल के बीच बनने वाली चार किलोमीटर लंबी सड़क, लगभग दो करोड़ 67 लाख रुपये की लागत से रानसरगीपाल से पखनारचा के बीच बनने वाली चार किलोमीटर लंबी सड़क, लगभग सवा करोड़ रुपये की लागत से चित्रकोट मार्ग से गल्र्स पॉलिटेक्निक कॉलेज के बीच सड़क का नवीनीकरण एवं मजबूतीकरण, लगभग दो करोड़ 68 लाख रुपये की लागत से तिरथा चौक से सुधापाल तक बनने वाली चार किलोमीटर लंबी सड़क, लगभग दो करोड़ 24 लाख रुपये की लागत से बड़ांजी से कुम्हली तक पक्की सड़क का निर्माण, एक करोड़ 79 लाख रुपये की लागत से पारापुर से मुतनपाल तक सड़क निर्माण, एक करोड़ 25 लाख रुपये की लागत से बेलर से सिरिसगुड़ा के बीच सडक़ निर्माण, एक करोड़ दो लाख रुपये की लागत से भैंसगांव से सांवरापाल के बीच सड़क निर्माण व सिंचाई सुविधाओं के विकास सहित अन्य विकास कार्यों की आधारशिला भी रखी। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर माटी कला बोर्ड द्वारा संचालित योजना के अंतर्गत 25 कुम्हारों को इलेक्ट्रिक चाक प्रदान किया। उन्होंने जिला केंद्रीय सहकारी बैंक द्वारा संचालित एटीएम वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया।

इस अवसर पर प्रभारी मंत्री कवासी लखमा राज्यसभा सांसद फूलोदेवी नेताम, स्थानीय लोकसभा सांसद दीपक बैज, बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप, चित्रकोट विधायक राजमन बेंजाम, अंतागढ़ विधायक अनूप नाग, क्रेडा अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार, मछुआ कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष एमआर निषाद कमिश्नर श्याम धावड़े, पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी, कलेक्टर चंदन कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र मीणा, जिला पंचायत सीईओ प्रकाश सर्वे सहित जनप्रतिनिधगण भी उपस्थित थे।

हिन्दुस्थान समाचार/राकेश पांडे

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story