नालंदा मंडल कारा में विचाराधिन कैदी की मौत

नालंदा मंडल कारा में विचाराधिन कैदी की मौत
नालंदा मंडल कारा में विचाराधिन कैदी की मौत


बिहारशरीफ, 10 जून (हि.स)। बिहारशरीफ मंडल कारा में बंद एक कैदी की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। जेल प्रशासन के अनुसार कैदी ने रविवार दोपहर में आत्महत्या का प्रयास किया। इसके बाद उसे अस्पताल भेजा गया, जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। युवक लगभग 20 माह से जहरीली शराब कांड मामले में जेल में बंद था। मृतक सोहसराय थाना क्षेत्र के मंसूर नगर निवासी स्व. देव पासवान के 32 वर्षीय पुत्र जितेंद्र पासवान उर्फ बोकरवा है। बिहारशरीफ में 2022 में जहरीली शराब कांड मे करीब 12 लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले मे मास्टरमाइंड मैडम के साथ वह भी आरोपित था।

मृतक के परिजन के अनुसार शराब कांड मामले में उसे फसाया गया गया था, जिसमे पिछले दो वर्षों से वह जेल में बंद था। दो दिन पूर्व जेल से मिलकर लौटने पर तबीयत खराब होने की सूचना दी गयी और सदर अस्पताल बुलाया गया। अस्पताल पहुँचने पर उसे मृत पाया गया ।

परिजन ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा पुलिस वालों के कारण जितेंद्र की मौत हुई। वहीं सुरक्षा के लिहाज से सदर अस्पताल में भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनात कर दिया गयी थी।बिहारशरीफ मंडल कारा के अधीक्षक प्रभात कुमार ने बताया कि दोपहर को जितेंद्र कुमार उर्फ बोकरवा ने शौचालय में आत्महत्या करने का प्रयास किया। बाथरूम में लगे पानी के पाइप पर गमछी का फंदा बनाकर बंदी ने आत्महत्या का प्रयास किया।

सुरक्षा में तैनात जवानों ने देख लिया और इलाज के लिए बिहारशरीफ सदर अस्पताल में ले जाकर भर्ती कराया गया। जहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। मामले की जांच की जा रही है जिनकी भी संलिप्ता इसमें सामने आएगी उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। जेल प्रशासन द्वारा पोस्टमार्टम की प्रक्रिया कराई जा रही है।

हिन्दुस्थान समाचार/प्रमोद /चंदा

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story