शिक्षा व्यवस्था बदहाल, ठंड में जमीन पर बैठकर पढ़ने को विवश बच्चे

शिक्षा व्यवस्था बदहाल, ठंड में जमीन पर बैठकर पढ़ने को विवश बच्चे


भागलपुर, 24 नवम्बर (हि.स.)। बिहार सरकार के लाख प्रयास के बावजूद शिक्षा व्यवस्था सुधरने का नाम नहीं ले रही है। ताजा मामला भागलपुर के कहल गांव अनुमंडल स्थित प्रोन्नत मध्य विद्यालय बनसप्ति का है।

इस विद्यालय में मूलभूत सुविधा की घोर कमी है। विद्यालय में बच्चों के पढ़ने के लिए कमरे हैं। पीने के लिए शुद्ध पानी नहीं है और ना ही क्लास रूम में बैठने के लिए जगह। ठंड के मौसम में बाहर किसी तरह बच्चे को जमीन पर बिठाकर ठंड में ठिठुरते हुए पढ़ाया जाता है। विद्यालय के प्रधानाध्यापक प्रवीण कुमार से जब पूछा गया कि बच्चों का यह हाल क्यों है तो उनका साफ तौर पर कहना हुआ कि हम लोगों ने अधिकारियों को कई बार आवेदन दिया है। लेकिन यहां की व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया है। जिसके चलते बच्चे को ना तो बैठने के लिए जगह है ना ही पीने के लिए पानी और ना ही क्लास करने के लिए कक्षा।

इस विद्यालय की छात्रा काजल खातून का कहना है कि विद्यालय में बैठने में भी डर लगता है, क्योंकि छत टूट टूट कर गिरते रहते हैं। सभी बच्चे डरे सहमे रहते हैं। हम लोगों को जमीन पर बिठाया जाता है, जिससे हम लोगों की तबीयत खराब हो जाती है। इस वजह विद्यालय भी नहीं आना चाहती हूं।

हिन्दुस्थान समाचार/बिजय

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story