सदर अस्पताल में आयुष्मान भारत दिवस का सिविल सर्जन ने उद्घाटन किया

सदर अस्पताल में आयुष्मान भारत दिवस का सिविल सर्जन ने उद्घाटन किया


सहरसा,23 सितंबर (हि.स.)। सदर अस्पताल में शुक्रवार को आयुष्मान भारत दिवस मनाया गया। जिसका विधिवत उद्घाटन जिले के सिविल सर्जन डॉ के के मधुप ने फीता काटकर किया।वे मौके पर मौजूद लोगों को आयुष्मान भारत योजना के संदर्भ में सभी छोटी-बड़ी जानकारी उपलब्ध करवाया।

सिविल सर्जन ने बताया कि वर्ष 23 दिसंबर 2018 को आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना की शुरुआत हुई थी।देश की आबादी के 62% से अधिक लोग अपनी आय और बचत से स्वयं के स्वास्थ्य और अस्पताल के खर्च का भुगतान कर रहे थे।उन्हें अपने इलाज के लिए या तो महाजन से पैसे उधार लेने पड़ते थे या अपनी संपत्ति बेचनी पड़ती थी। जिससे हर साल 4.6 प्रतिशत आबादी गरीबी रेखा से नीचे चली जा रही थी। सरकार द्वारा आर्थिक कठिनाई से जूझ रहे लोगों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के लिए योजना को लाई।

उक्त योजना में सूचीबद्ध लाभुक को सरकारी और निजी अस्पतालों में भर्ती और इलाज के लिए 5 लाख रुपए तक का इलाज सुलभ कराया जाता है। बिहार में 1.08 करोड़ लाभार्थी परिवार और 5.5 करोड़ व्यक्ति इस योजना का लाभ के लिए निबंधित हो चुके हैं। एक परिवार के लिए लाभ की सीमा 5 लाख रुपए तक रखी गई है। उसका उपयोग परिवार के एक या सभी सदस्य द्वारा किया जा सकता है। अस्पताल में भर्ती होने के तीन दिन पूर्व और अस्पताल से डिस्चार्ज होने के 15 दिन बाद तक का इलाज और दवाइयां का खर्च भी इसमें शामिल है।

इस अवसर पर सदर अस्पताल उपाधीक्षक डॉ एस के विश्वास,आयुष्मान भारत के जिला समन्वयक सुभाष सिंह,आयुष्मान आरोग्य मित्र दीपक कुमार , अस्पताल मैनेजर शिल्पी कुमारी सहित अन्य लोग मौजूद थे।

हिन्दुस्थान समाचार/अजय

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story