कहानी और संगीत के माध्यम से निर्गुण की खोज करेगी आह्वान की टीम

कहानी और संगीत के माध्यम से निर्गुण की खोज करेगी आह्वान की टीम


बेगूसराय, 22 नवम्बर (हि.स.)। दिल्ली के कलाकारों की टीम बुधवार की देर शाम बीहट में बाल रंगमंच आर्ट एंड कल्चरल सोसाइटी के बैनर तले ''आहवान'' कहानियों और संगीत के माध्यम से विलुप्त हो रहे निर्गुण की खोज करेगी। कार्यक्रम में दिल्ली के रंगकर्मी वेदी सिन्हा, पाखी सिन्हा और सुमंत बाल कृष्णा शिरकत करेंगे।

मध्य विद्यालय बीहट स्थित बाल रंगमंच के कार्यालय में मंगलवार को आयोजित प्रेस वार्ता में दिल्ली के रंगकर्मी वेदी सिन्हा ने कार्यक्रम की रूपरेखा के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आह्वान की स्थापना छह वर्ष पूर्व हुई तथा इसका उद्देश्य भक्तिकाल में गाए गए निर्गुण प्रेम को आज दुनियां में खोजना है। देश के विभिन्न हिस्से में इस प्रेम को लेकर जाने वाली वेदी ने बताया कि आह्वान सांस्कृतिक समूह है, जो संगीत और कहानियों की प्रस्तुति और कार्यशाला के माध्यम से देश के विभिन्न हिस्से के लोगों से जुड़ती है और उनसे इस प्रेम पर चर्चा भी करती है।

उन्होंने कहा कि आज सत्ता का दुरुपयोग होने से गलत का बोलबाला बढ़ गया है। आज हम केवल अपनी बात रख रहे हैं, लेकिन सुन नहीं रहे हैं। बाल रंगमंच आर्ट एंड कल्चरल सोसाइटी के सचिव रंगकर्मी ऋषिकेश कुमार ने कहा कि उक्त संस्था गांव-कस्बे के बाल कलाकारों को ना केवल नया प्लेटफार्म उपलब्ध करवा रहा है। बल्कि उक्त संस्था के कई कलाकार आज देश के विभिन्न हिस्से में रंगकर्म के क्षेत्र में परचम भी लहरा चुके हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story