भारत में रह सकते हैं या तीसरे देश जा सकते हैं ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

c
सिडनी। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) स्थगित हो चुका है और इसमें खेल रहे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी या तो भारत में ही रहेंगे या फिर तीसरे देश जाएंगे। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स एसोसिएशन (एसीए) ने मंगलवार को साफ कर दिया कि वे अपनी राष्ट्रीय सरकार के मानदंडों में छूट की मांग नहीं करेंगे।

ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने 15 मई तक भारत से सभी उड़ानों को निलंबित कर दिया है। आईपीएल में क्रिकेटरों और पूर्व क्रिकेटरों सहित लगभग 9,000 ऑस्ट्रेलियाई फंसे हुए हैं । भारत में कोरोना महामारी चरम पर है और यहां हर दिन तकरीबन 4 लाख मामले सामने आ रहे हैं।

सीए और एसीए ने मंगलवार को जारी अपने संयुक्त बयान में कहा, कम से कम 15 मई तक भारत से यात्रा को रोकने के लिए ऑस्ट्रेलियाई सरकार के फैसले का सम्मान करते हैं और इस मामले में हम किसी प्रकार की छूट की मांग नहीं करेंगे।

आईपीएल में खेल रहे तीन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी - एडम जम्पा, केन रिचर्डसन (रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर) और एंड्रयू टाई (राजस्थान रॉयल्स) - सरकार द्वारा उड़ान प्रतिबंध लगाने से पहले ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना हुए लेकिन शेष क्रिकेट खिलाड़ी भारत में ही बने रहे।

अंपायर पॉल रीफेल ने वापसी करने का फैसला किया लेकिन कतर के रास्ते उनकी उड़ान को भी रद्द कर दिया गया था। कमेंटेटर माइकल स्लेटर को मालदीव भागना पड़ा और वहां पहुंचकर वह सरकार पर भड़क गए।

मंगलवार को, ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने घर से भारी आलोचना के बाद भारत से ऑस्ट्रेलियाई तटों पर आने वालों के लिए जेल जाने की संभावना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि फिलहाल इसकी कोई सम्भावना नहीं है।

इससे पहले मंगलवार को बीसीसीआई ने एक बयान के जरिए आईपीएल को स्थगित करने की घोषणा की। सोमवार को आईपीएल बायो-बुलबुले में और अधिक कोविदड-19 मामलों के सामने आने के बाद यह निर्णय लिया गया।

आईपीएल के चेयरमैन बृजेश पटेल ने इसकी पुष्टि की है। आईपीएल गवनिर्ंग काउंसिल और बीसीसीआई की आपात बैठक में यह फैसला लिया गया है।

आईपीएल के चेयरमैन बृजेश पटेल ने कहा कि यह फैसला सभी हितधारकों, खिलाड़ियों, टीम सपोर्ट स्टाफ और अधिकारियों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर लिया गया है।

आईपीएल के 14 वें सीजन में अब तक 29 ही मैच खेले गए हैं। इसका 30 मैच मंगलवार को यहां अरुण जेटली स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के बीच खेला जाना था। नौ अप्रैल से शुरू हुए आईपीएल 2021 में पूरे 60 मैच खेले जाने थे और इसका फाइनल 30 मई को अहमदाबाद में होना था।

बयान में आगे कहा गया है कि बीसीसीआई आईपीएल के आयोजन में शामिल खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ और अन्य प्रतिभागियों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं करना चाहता है। यह निर्णय सभी हितधारकों की सुरक्षा, स्वास्थ्य और भलाई को ध्यान में रखते हुए लिया गया है।

आईपीएल ने कहा, ये मुश्किल समय हैं, विशेष रूप से भारत में और ऐसे में हमने कुछ सकारात्मकता और जयकार में लाने की कोशिश की है। हालांकि, यह जरूरी है कि टूनार्मेंट अब निलंबित हो जाए और ऐसे समय में हर कोई अपने परिवार और प्रियजनों के पास वापस चला जाए। आईपीएल 2021 में सभी प्रतिभागियों के सुरक्षित और सुरक्षित मार्ग की व्यवस्था करने के लिए बीसीसीआई अपनी शक्तियों का हरसंभव इस्तेमाल करेगा।

आईपीएल ने कहा कि बीसीसीआई सभी स्वास्थ्य कर्मियों, राज्य संघों, खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ, फ्रेंचाइजी, प्रायोजकों, भागीदारों और उन सभी सेवा प्रदाताओं को धन्यवाद देना चाहता है जिन्होंने इन बेहद कठिन समय में भी आईपीएल 2021 के आयोजन की पूरी कोशिश की है

--आईएएनएस

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये यहां क्लिक करें।

Share this story