मुंबई में खुले मैनहोल में गिरी दो महिलाएं, बाल-बाल बची

`
मुंबई। मुंबई के भांडुप में पानी से भरे फुटपाथ पर चल रही महिलाएं खुले मैनहोल में गिर गई। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद से शहरवासियों में आक्रोश फैल गया।

यह घटना बुधवार शाम की है, जब मुंबई में रिकॉर्ड भारी बारिश हुई थी और कई हिस्से जलमग्न हो गए थे, जिससे उपनगरीय ट्रेनों को भी कई घंटों के लिए निलंबित कर दिया गया था।

एक सीसीटीवी फुटेज में दो अज्ञात महिलाओं को बारिश में छतरी के साथ फुटपाथ पर चलते हुए देखे जा सकता है और अगले ही पल थोड़े अंतराल पर उसी खुले मैनहोल के अंदर गिरती हुई देखी जा सकती हैं।

कुछ ही देर में उनको बाहर निकलते हुए भी देखा जा सकता है।

सीसीटीवी फुटेज के वायरल होते ही मेयर किशोरी पेडनेकर जांच के लिए मौके पर पहुंची।

इसी तरह नगर आयुक्त आई.एस. चहल ने शहर भर में सभी जल निकासी मैनहोलों का तत्काल सर्वे करने और किसी भी टूटे, क्षतिग्रस्त या निकले हुए ढक्कन की मरम्मत का आदेश दिया है।

आज सुबह नागरिक कार्यकर्ताओं की एक टीम ने जाकर भांडुप मैनहोल कवर को बदल दिया, जो स्पष्ट रूप से पानी से अलग हो गया था।

29 अगस्त, 2017 को, बॉम्बे अस्पताल के एक प्रमुख गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट के खुले मैनहोल में गिरने के बाद शहर स्तब्ध रह गया था और कई दिनों के बाद वर्ली से अरब सागर में उसका शव बरामद किया गया था।

मुंबई की सड़कों में अनुमानित रूप से 3,50,000 से अधिक मैनहोल या ड्रेन होल या गटर कवर हैं, जिनमें से बमुश्किल 1 प्रतिशत को अतिरिक्त सुरक्षा ग्रिल के साथ लगाया गया है ताकि इंसानों या छोटे जानवरों को अंदर फंसने से रोका जा सके।

--आईएएनएस

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक  करें।

Share this story