बिहार में कोरोना संक्रमितों और मौतों के ग्राफ में उछाल

बिहार में कोरोना संक्रमितों और मौतों के ग्राफ में उछाल
पटना। बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले जैसे-जैसे बढ़ रहे हैं, वैसे-वैसे संक्रमितों के मरने वाले आंकड़ों में भी वृद्धि देखी जा रही है। इस महीने के पहले सप्ताह में जहां प्रतिदिन संक्रमितों की मौत की संख्या इकाई में थी, वहीं पिछले सप्ताह में संक्रमितों के मरने वालों की संख्या में तेजी आई है।

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों पर गौर करें तो एक अप्रैल को राज्य में 1,907 नए मामले सामने आए थे, वहीं इस दिन मात्र दो संक्रमितों की मौत हुई थी, वहीं राज्य में 28 अप्रैल को 13,374 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई थी और 84 संक्रमितों की मौत हुई थी।

आंकडों पर गौर करें तो संक्रमितों की संख्या में वृद्धि के साथ ही मरने वालों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई है। बिहार स्वास्थ्य विभाग द्वारा 10 अप्रैल को जारी रिपोर्ट में कहा गया था कि पिछले 24 घंटे में जहां 3,469 नए संक्रमितों की पहचान की गई थी वहीं इस दिन छह कोरेाना संक्रमितों की मौत हुई थी।

इसी तरह 20 अप्रैल को राज्य में एक दिन में 10 हजार से अधिक यानी 10,455 संक्रमितों की पहचान की गई थी वहीं एक दिन में मरने वालों की संख्या भी 51 तक पहुंच गई थी।

आंकडों के मुताबिक 26 अप्रैल को 11,801 नए मामले सामने आने के बाद राज्य में कोरोना के एक्टिव (सक्रिय) मरीजों की संख्या 90 हजार के करीब पहुंच गई है। इस दिन राज्य में 67 संक्रमितों की मौत हो गई। राज्य में 27 अप्रैल को 12,604 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है, जबकि 85 संक्रमितों की मौत हो गई थी।

सरकार का हालांकि दावा है कि जांच की रफ्तार तेज की गई तथा मरीजों की सुविधा के लिए अस्पतालों में बेडों की संख्या बढ़ाई जा रही है।

इधर, सरकार ने राज्य में संक्रमण की रफ्तार को कम करने के लिए नाइट कर्फ्यू नौ बजे रात के बदले शाम 6 बजे से ही लगाने का फैसला लिया है तथा शाम चार बजे से ही राज्य की सारी दुकानें बंद कर देने का आदेश दिया है।

सरकार ने शादी ब्याह को लेकर भी भाग लेने वाले लोगों की संख्या कम कर दी है। शादी ब्याह में अब सिर्फ 50 लोग ही शामिल हो पाएंगे। पहले शादी ब्याह में 100 लोगों के शामिल होने की अनुमति थी। इसी तरह श्राद्ध में अब सिर्फ 25 लोगों के शामिल होने की अनुमति होगी जबकि अंतिम संस्कार में सिर्फ 20 लोग ही शामिल हो पाएंगे। यह आदेश 15 मई तक लागू रहेगा।

--आईएएनएस

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये यहां क्लिक करें।

Share this story