शहीद राम प्रसाद बिस्मिल की जयंती को धूमधाम से मनाएगी मोदी सरकार

`
नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी शहीद राम प्रसाद बिस्मिल की जयंती को धूमधाम से मनाने की तैयारी की है। आजादी का अमृत महोत्सव के रूप में केंद्र सरकार के संस्कृति मंत्रालय की ओर से 11 जून को बिस्मिल के शाहजहांपुर(उप्र) स्थित जन्म स्थान पर विशेष समारोह का आयोजन किया जाएगा।

इस कार्यक्रम में संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल भी हिस्सा लेंगे। शहीद उद्यान शाहजहांपुर प्रदेश में आयोजित किए जा रहे विशेष कार्यक्रम में शहीद राम प्रसाद बिस्मिल, शहीद अशफाक उल्लाह खान और शहीद रोशन सिंह को पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। उत्तर प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, मंत्री नीलकंठ तिवारी और शाहजहांपुर के सासंद अरुण कुमार सागर एवं जिलाधिकारी भी इस पुष्पांजलि समारोह में भाग लेंगे।

शाहजहांपुर में 11 जून, 1897 को जन्में पंडित राम प्रसाद बिस्मिल उन जाने-माने भारतीय आंदोलनकारियों में से एक थे जिन्होंने ब्रिटिश उपनिवेशवाद के विरुद्ध लड़ाई लड़ी। उन्होंने 19 वर्ष की आयु से बिस्मिल उपनाम से उर्दू और हिन्दी में देशभक्ति की सशक्त कविताएं लिखनी आरंभ कर दी। उन्होंने भगत सिंह और चन्द्रशेखर आजाद जैसे स्वतंत्रता सेनानियों सहित हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन का गठन किया और 1918 में इसमें मैनपुरी षडयंत्र और ब्रिटिश शासन के विरुद्ध प्रदर्शन करने के लिए अशफाक उल्लाह खान तथा रोशन सिंह के साथ 1925 के काकोरी कांड में भाग लिया।

काकोरी कांड में उनका हाथ होने के कारण उन्हें मात्र 30 वर्ष की आयु में 19 दिसम्बर, 1927 को गोरखपुर जेल में फांसी दे दी गई। जब वे जेल में थे तब उन्होंने मेरा रंग दे बसंती चोला और सरफरोशी की तमन्ना लिखे जो स्वतंत्रता सेनानियों का गान बन गए।

--आईएएनएस

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक  करें।

Share this story