दो साल में पहली बार हो रहा जी7 मंत्रियों का सम्मेलन

दो साल में पहली बार हो रहा जी7 मंत्रियों का सम्मेलन
लंदन। जी7 देशों के मंत्री लंदन में सोमवार को दो साल में पहली बार एक-दूसरे से मिलेंगे। वे सम्मेलन में अफगानिस्तान से विदेशी सैनिकों की वापसी, ब्रेक्सिट के बाद व्यापार समझौते, ईरान के परमाणु कार्यक्रम और चीन पर चर्चा करेंगे।

कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान और अमेरिका के मंत्री ब्रिटिश विदेश सचिव डॉमिनिक रैब से मिलने वाले हैं।

सम्मेलन में यूरोपीय संघ के सदस्य भी भाग लेंगे। इसमें ऑस्ट्रेलिया, भारत, दक्षिण कोरिया, दक्षिण अफ्रीका और दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों के संघ के अध्यक्ष के प्रतिनिधियों को मेहमान के रूप में आमंत्रित किया गया है।

राब को दोपहर के समय जापानी विदेश मंत्री तोशिमित्सु मोतेगी के साथ आमने-सामने और अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिन्केन से दोपहर बाद मिलने की उम्मीद है।

ब्रिटेन के विदेश कार्यालय ने कहा कि बैठकों के आगे, ये मंत्री कोविड-19 महामारी से उबरने के उपायों, लड़कियों की शिक्षा और महिलाओं के रोजगार को बढ़ावा देने की योजनाओं पर भी चर्चा करेंगे।

अगले दो वर्षों में विकासशील देशों द्वारा 15 अरब डॉलर का कोष बनाया जा रहा है।

ये देश नए वैश्विक लक्ष्यों पर भी हस्ताक्षर कर रहे हैं, जिनका लक्ष्य है स्कूलों में और 4 करोड़ लड़कियों को दाखिला दिलाना और साल 2026 तक कम आय वाले निम्न-मध्यम आय वाले देशों में 10 वर्ष की आयु तक पढ़ने वाली और 2 करोड़ लड़कियों की पढ़ाई का खर्च वहन करना।

आमने-सामने की यह बैठक जून में इंगलिश समुद्र तटीय काउंटी कॉर्नवाल में होने वाले जी7 शिखर सम्मेलन से पहले होने जा रही है।

--आईएएनएस

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये यहां क्लिक करें।

Share this story