दिल्ली के निजी अस्पताल से कोरोना को मात देकर घर लौटा एक माह का शिशु, अस्पताल कर्मी हुए भावुक

दिल्ली के निजी अस्पताल से कोरोना को मात देकर घर लौटा एक माह का शिशु, अस्पताल कर्मी हुए भावुक दिल्ली के निजी अस्पताल से कोरोना को मात देकर घर लौटा एक माह का शिशु, अस्पताल कर्मी हुए भावुकनई दिल्ली, 15 जनवरी (आईएएनएस)। दिल्ली के एक अस्पताल में कोरोना संक्रमण को मात देकर एक महीने का शिशु स्वस्थ होकर घर लौटा है। यह वो पल था जहां अस्पताल के डॉक्टर भी खुद को रोने से रोक नहीं पाए। वहीं नम आंखों के बीच एक स्वास्थ्य कर्मी की गोद में बच्चा खेलता हुआ नजर भी आ रहा है।

दरअसल दिल्ली में कोरोना के मामलों में लगातार उछाल हो रहा है, इसी बीच दिल्ली के एक निजी अस्पताल में बीते हफ्ते एक महीने का शिशु भर्ती हुआ, क्योंकि बच्चे में चिड़चिड़ापन था और हल्का बुखार भी महसूस हो रहा था। हालांकि जब बच्चे के माता पिता की रिवर्स टेस्टिंग की गई तो वह भी संक्रमित पाए गए थे।

दिल्ली के मूलचंद अस्पताल के नियोनेटोलॉजी और बाल रोग विभाग की सलाहकार डॉ प्रीति चड्ढा ने आईएएनएस को बताया , शिशु बीते सप्ताह शनिवार को अस्पताल आया था, बच्चा रो भी रहा था, हमने तापमान जांचा वो सामान्य मिला हालांकि हमने सोमवार को फिर जांच करने का विचार किया, बच्चा खाना भी नहीं खा पा रहा था। साथ ही हमने बच्चे को एंटीबायोटिक देना शुरू की।

https://livevns.news/static/c1e/static/themes/11/84451/3269/images/Website-Banner--3-.jpg

हमने जब दोबारा जांचा तो बच्चा संक्रमित मिला, हमने एनएसयूआई में भर्ती किया 48 घण्टे बाद बच्चे में सुधार हुआ शुरू हुआ। हालांकि एतिहातन जब हमने बच्चे के माता पिता को भी जांचा तो वो भी संक्रमित मिले थे।

डॉक्टर के मुताबिक, अस्पताल में बीते करीब 15 दिनों में रोजाना ऐसे लक्षणों वाले 2-3 बच्चों को देख रहे हैं। क्योंकि उनमें हल्के लक्षण दिखाई देते हैं, इसलिए उन्हें होम आइसोलेशन में इलाज की ही सलाह देते हैं।

वहीं दिल्ली में भी लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं शुक्रवार को भी 24 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। हालांकि अधिक्तर मरीज होम आइसोलेशन में अपना इलाज करा रहे हैं।

--आईएएनएस

एमएसके/आरएचए

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story