प्राकृतिक सुंदरता और विरासत के लिए जाना जाता हैं कर्नाटक, ये 10 जगहें देती हैं पर्यटन का मजा

m

जब भी कभी पर्यटन की बात की जाती हैं तो दक्षिण भारतीय राज्य कर्नाटक को बहुत पसंद किया जाता हैं। पर्यटन की दृष्टि से कर्नाटक भारत का पांचवां सबसे लोकप्रिय राज्य है। कर्नाटक भारत में आकर्षण का एक गुलदस्ता है। यह राज्य समृद्ध सांस्कृतिक विरासत से भरा हुआ है। भारत के 3,600 केंद्रीय संरक्षित ऐतिहासिक स्मारकों में से 507 कर्नाटक में स्थित हैं। कर्नाटक प्राकृतिक आकर्षणों से भरपूर है। यहाँ पर 5 राष्ट्रीय उद्यान और 25 से अधिक वन्यजीव अभयारण्य हैं। इस खूबसूरत राज्य में आपको मंत्रमुग्ध कर देने वाले नजारे, सांस्कृतिक विरासत, शांत समुद्र तट से लेकर शानदार भोजन तक सब कुछ मिलेगा। अगर आप भी कर्नाटक की यात्रा का मन बना रहे हैं, तो चलिए हम आपको बताते हैं यहां घूमने वाली कुछ प्रमुख जगहों के बारे में, जहां आपको जरूर जाना चाहिए।

m

बेंगलुरु

बैंगलुरु, संस्कृति और लोगों से जुड़ा एक रंगीन शहर है, जिसे कर्नाटक के लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में गिना जाता है। बैंगलोर को अपने खुशनुमा मौसम, आकर्षक पार्क और यहाँ स्थित खूबसूरत झीलों के लिए भी जाना जाता है। बैंगलोर के आसपास का हरा-भरा इलाका झरनों, वन्यजीव अभ्यारण्यों, और नदियों से घिरा हुआ है। हरे-भरे बगीचों की उपस्थिति के कारण, इसे 'भारत का उद्यान शहर' होने के लिए ख्याति प्राप्त हुई है। कब्बन पार्क, उल्सूर झील, इंदिरा गांधी म्यूजिकल फाउंटेन पार्क, बगले रॉक पार्क और लुंबिनी गार्डन यहां के प्रमुख आकर्षण हैं।

m
कूर्ग

यह कर्नाटक के लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। प्रकृति प्रेमियों के लिए यह जगह स्वर्ग के सामान है। यहां की खूबसूरत हरी-भरी पहाड़ियां और उसके साथ ही यहां बहने वाली नदियों को देखकर दिल को सुकून मिलता है। कॉफी के लिए मशहूर कूर्ग को 'भारत का स्कॉटलैंड' भी कहा जाता है। एबी फॉल्स, इरुप्पू फॉल्स और होननामना केर झील आदि कूर्ग में देखने लायक जगहें हैं।

m

गोकर्ण

गोकर्ण कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले में स्थित एक शहर है। प्राचीन मंदिरों से घिरे इस शहर में आप कई हजारों साल पुराने मंदिरों को देख सकते हैं। यह शहर कारवार से लगभग 59 किमी, बेंगलुरु से 483 किमी और मैंगलोर से 238 किमी दूर है। इसके अलावा, शहर के देहाती दृष्टिकोण ने बहुत सारे यात्रियों और विदेशियों का ध्यान आकर्षित किया है। यहां कई समुद्र तट, तीर्थ स्थल और झरने हैं जो पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र हैं। यह शहर अघनाशिनी नदी के आसपास स्थित है, जिसे भक्तों के लिए पवित्र स्थल माना जाता है। समुद्र तटों के अलावा, महाबलेश्वर मंदिर है जो कई भक्तों और संतों को आकर्षित करता है।

m
नंदी हिल्स

कर्नाटक के चिक्काबल्लापुर जिले में स्थित नंदी हिल्स की गिनती भारत की सबसे खूबसूरत जगहों में की जाती है। यहां की हरियाली और सुंदर दृश्य मन को मोह लेते हैं। यहां बहुत सारे प्राचीन और आकर्षक मंदिर स्थित हैं। इसके अलावा पहाड़ों पर स्थित नंदी किला भी यहां देखने लायक जगह है। यह एक प्राचीन किला है, जिसे टीपू सुलतान ने बनवाया था।

m

उडुपी

मैंगलोर से लगभग 60 किमी दूर स्थित उडुपी कर्नाटक में एक अद्भुत वेकेशन स्पॉट है। इस शहर की एक अनोखी बात यह है कि यह एक तरफ पश्चिमी घाट और दूसरी तरफ अरब सागर से घिरा हुआ है। बैंगलोर और मैंगलोर के बाद, उडुपी कर्नाटक का सबसे महत्वपूर्ण शहर है। उडुपी अपनी प्राकृतिक सुंदरता, टेस्टी फूड, प्राचीन समुद्र तटों और घने जंगलों के लिए प्रसिद्ध है। जटिल नक्काशीदार मंदिरों में साल भर भक्तों और इतिहास प्रेमियों की भीड़ देखी जा सकती है। उडुपी में एक समृद्ध सांस्कृतिक विरासत है जिसका इतिहास 700 वर्ष से अधिक पुराना है। यहां घूमने के लिए अन्य लोकप्रिय स्थान सेंट मैरी द्वीप, ब्रह्मवर, बरकुर, मालपे बीच, कुडलू जलप्रपात और अनंतेश्वर मंदिर है।

m
मैसूर

मैसूर एक खूबसूरत शहर है। यहां आप शाही विरासत को देखने का आनंद ले सकते हैं। मैसूर देश के सबसे अधिक देखे जाने वाले पर्यटन स्थलों में से एक है। ये स्थान अपनी शानदार वास्तुकला और इतिहास के लिए मशहूर है। आगरा के ताजमहल के बाद, मैसूर के मैसूर महल को सबसे खूबसूरत वास्तुशिल्प माना जाता है। अगर आप इतिहास जानने के शौकीन हैं, तो आपको यहां की यात्रा करने का प्लान बनाना चाहिए।

m
मंगलुरु

कर्नाटक राज्य की राजधानी बेंगलुरु से 250 किमी पश्चिम में स्थित, तटीय शहर मंगलुरु पूरे साल दक्षिण भारत में प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक है। हालांकि मंगलुरु समुद्र तटों, द्वीपों, मंदिरों और सूर्योदय और सूर्यास्त पॉइंट के लिए जाना जाता है, अगर आप कर्नाटक में तटीय शहर की तलाश में हैं, तो मंगलुरु आपके लिए बेस्ट ऑप्शन है। जब आप मंगलुरु घूमने के लिए आएं, तो यहां का स्वादिष्ट समुद्री भोजन भी जरूर खाएं। अनिरभवी बीच, पनाम्बुर बीच, सोमेश्वर मंदिर, सेंट एलॉयसियस चैपल, मंगलादेवी मंदिर, कादरी मंजूनाथ मंदिर यहां के प्रमुख आकर्षण हैं।

m
हम्पी

विजयनगर के मध्यकालीन हिंदू साम्राज्य के खंडहरों के कारण हम्पी शहर को यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया है। हम्पी घूमने का एक और बड़ा कारण ये है कि यहां आपको जो शांति मिलेगी वो आपको दूसरी दुनिया में ले जाएगी। ये आपको शांत करता है और आराम देता है, रोजमर्रा की जिंदगी के तनावों से एक ब्रेक प्रदान करता है।

n
मुरुदेश्वर

मुरुदेश्वर भगवान शिव को समर्पित एक पवित्र शहर है, जो दक्षिणी राज्य कर्नाटक में अरब सागर के तट पर स्थित है। इस शहर में भगवान शिव की दुनिया की दूसरी सबसे ऊंची मूर्ति विराजमान है। मुरुदेश्वर तक बस, ट्रेन और हवाई मार्ग से आसानी से पहुँचा जा सकता है। निकटतम हवाई अड्डा मैंगलोर हवाई अड्डा है, जो शहर से 133 किमी दूर है। मुरुदेश्वर के समुद्र तट पर आप सनसेट का पूरा मजा ले सकते हैं। अरब सागर के समुद्र तट जैसे अलीगड्डा समुद्र तट और मुरुदेश्वर समुद्र तट पर्यटकों को बेहद आकर्षित करते हैं। भगवान शिव की राजसी प्रतिमा को भी जरूर देखें जो 123 फीट की ऊंचाई पर स्थित है।

m
बंदीपुर

बांदीपुर कर्नाटक में राष्ट्रीय रिजर्व है। इस रिजर्व में जंगली जानवरों और पक्षियों का संरक्षण किया जाता है। राजधानी बैंगलोर से कुछ किलोमीटर दूर, यह रिजर्व एक लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है, जहां आप वीकेंड पर छुट्टी मनाने के लिए जा सकते हैं। यह स्थान शांत वातावरण से घिरा हुआ है और पर्यावरण के अनुकूल है। यहां आप हरी भरी हरियाली, हाथी और अन्य पक्षियों व जानवरों को देख सकते हैं। इस रिजर्व में पशु देखभाल केंद्र भी है जो उनके स्वास्थ्य और प्रजनन समस्याओं को देखता है। इस केंद्र में घायल पशुओं का इलाज किया जाता है। आप इस रिजर्व में बर्ड वाचिंग टूर पर जा सकते हैं और वन्यजीव सफारी ले सकते हैं।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story