बच्चों को बचपन से ही खिलाना शुरू करें ये 10 आहार, हाइट बढ़ाने में मिलेगी मदद 

m

पेरेंट्स अपने बच्चों को लेकर हमेशा फिक्रमंद रहते हैं और उनकी हर छोटी-बड़ी बात को लेकर चिंता करने लगते हैं। इन्हीं चिंताओं में से एक हैं उनकी कम हाइट। जब बच्चे की उम्र बढ़ती जाती हैं और हाइट नहीं बढ़ती हैं, तो यह परेशान करने लगती हैं। कम हाइट की वजह से बच्चों को आने वाले भविष्य में कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। हांलाकि इंसान का कद आनुवांशिकता पर निर्भर करता है, लेकिन शरीर की सही ग्रोथ और डेवलपमेंट के लिए डाइट में पर्याप्त पोषक तत्वों को शामिल किया जाए तो ये प्रभावकारी साबित होते हैं। ऐसे में आज हम आपके लिए कुछ ऐसे आहार की जानकारी लेकर आए हैं जिनकी मदद से बच्चों की हाइट बढ़ाने में मदद मिलती हैं। आइये जानते हैं इन आहार के बारे में...

m
शलगम

शलगम सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। सर्दियों में खाया जाने वाला शलगम बच्चों की सेहत की कई परेशानियों को आसानी से दूर करने में मदद करता है। शलगम में भरपूर मात्रा में फाइबर, विटामिंस, प्रोटीन, फैट और कैल्शियम पाया जाता हैं। इसको खाने से बच्चों की हड्डियां मजबूत होने के साथ हाइट भी बढ़ती है।

m
चिकन

चिकन का सेवन सेहत के लिए बहुत लाभकारी होता है। चिकन में प्रोटीन की ज्यादा मात्रा होने के कारण सेहत के लिए इसके कई फायदे देखने को मिलते हैं। ताकत के लिए चिकन का सेवन बहुत लाभदायक होता है। इसलिए अपने बच्चों को चिकन का सेवन जरूर करवाएं। इससे हाइट बढ़ने में मदद मिलती है।

m
भिंडी

भिंडी बच्चों को काफी पसंद होती है। इसे बच्चों को आसानी से खिलाया जा सकता है। भिंडी में कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और विटामिंस आदि पाए जाते हैं, जो बच्चों की हाइट बढ़ाने में मदद करते हैं। भिंडी खाने से बच्चे के शरीर का विकास ठीक ढ़ंग से होता है और हाइट बढ़ने में भी मदद मिलती है।

m
अंडा

अंडे का सेवन बच्चों के लिए भी बहुत ज्यादा लाभदायक होता है। यदि आप अपने बच्चे की लम्बाई के लिए चिंतित हैं, तो रोजाना सुबह अपने बच्चे को अंडा खिलाएं। अंडे में बहुत अधिक कैल्शियम की मात्रा होती है जिसका सेवन हड्डियों की मजबूती और लंबाई बढ़ाने में मदद करता है। इतना ही नहीं अंडे में प्रोटीन की मात्रा भी होती है जिसका सेवन करने से शरीर को ताकत मिलती है।

m
पालक

पालक शरीर के लिए बहुत हेल्दी होता है। पालक में भरपूर मात्रा में आयरन, कैल्शियम, फाइबर और विटामिंस होते हैं, जो बच्चों के पाचन तंत्र को मजबूत रखने के साथ उनकी हाइट बढ़ाने में भी मदद करते हैं। पालक खाने से खून की कमी और कमजोरी दूर होती है। आप बच्चों को पालक सब्जी बनाकर, सूप और परांठा बनाकर आसानी से खिला सकते हैं।

m

शकरकंद

विटामिन-ए से युक्त शकरकंद हड्डियों की सेहत को सुधारकर लंबाई बढ़ाने में मदद करती है। इसमें सॉल्यूबल और इनसॉल्यूबल दोनों प्रकार के तत्व होते हैं, जो आपकी डायजेस्टिव हेल्थ को प्रमोट करते औंर आंतों के लिए अच्छे बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देते हैं। यह विटामिन-सी के अलावा मैग्नीज, विटामिन बी6 और पोटैशियम का भी अच्छा स्रोत है।

m

बींस

बींस बच्चों को काफी पसंद होती है। इसमें भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, फोलेट, फाइबर और प्रोटीन आदि पाया जाता हैं। बच्चों को बींस खिलाने से उनकी इम्यूनिटी मजबूत होने के साथ पाचन तंत्र भी स्वस्थ रहता हैं। बच्चों को बींस सब्जी बनाकर, सूप या आटे में गूंथकर परांठा बनाकर खिलाया जा सकता हैं।

m

क्विनोआ

क्विनोआ एक प्रकार का बीज है जिसका इस्तेमाल अक्सर दूसरे अनाज के स्थान पर किया जाता है। क्विनोआ प्लांट बेस्ड प्रोटीन का अच्छा स्रोत है। इसमें वो सभी नौ प्रकार के अमीनो एसिड होते हैं, जिनकी जरूरत आपके शरीर को होती है। इसमें हड्डियों के टिशू के लिए जरूरी मैग्नीशियम भी पाया जाता है, जो हड्डियों की मिनरल डेंसिटी को बढ़ा सकता है।

m
मटर

मटर सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है। ये बच्चों को हेल्दी रखने में मदद करती है। मटर में भरपूर मात्रा में फाइबर, प्रोटीन, विटामिन बी6 और विटामिन सी आदि पाया जाता है, जो बच्चों की इम्यूनिटी को मजबूत करने के साथ हाइट बढ़ाने में मदद करता है। बच्चों को इन सब सब्जियों को बचपन से खिलाने की आदत डालें।

m

बैरीज

ब्लूबैरी, स्ट्रॉबैरी, ब्लैकबैरी या रास्पबैरी भी कई प्रकार के न्यूट्रिशन से लैस होती है। इसमें मौजूद विटामिन-सी कोशिकाओं को बेहतर करता है और टिशू रिपेयर करने का काम करता है। विटामिन-सी कॉलेजन के सिंथेसिस को भी बढ़ाता है, एक ऐसा प्रोटीन जिसकी मात्रा आपके शरीर में सबसे ज्यादा होती है। एक स्टडी के मुताबिक, कॉलेजन हड्डियों के घनत्व को बढ़ाकर उसमें सुधार करता है।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story