सीढ़ी चढ़ते हुए सांस फूलने वाले लोग हो सकते हैं इन 4 बीमारियों के शिकार, इस गंभीर लक्षण को नजरअंदाज न करें

b

सीढ़ियां चढ़ते समय कई बार लोगों की सांस फूलने लगती है। लेकिन, बहुत से लोग इस नॉर्मल मान कर नजरअंदाज कर देते हैं। जबकि, ऐसा करना सेहत से जुड़ी कई समस्याओं का कारण बन सकता है। जी हां, क्योंकि सांस का फूलना कोई आम बात नहीं है बल्कि ये कई बीमारियों का गंभीर लक्षण हो सकता है। कैसे, तो बता दें कि सांस फूलने के पीछे दो कारण होते हैं। पहला कारण आपका फेफड़ा सही से काम नहीं कर पा रहा है और ऑक्सीजन लेवल में कमी है। दूसरा कारण है आपके दिल के काम काज का गड़बड़ाना जिससे ब्लड सर्कुलेशन सही नहीं है, एक्सट्रा प्रेशर आ रहा है और सांस फूल रही है। तो, ये दोनों ही कंडीशन कुछ बीमारियों की वजह से हो सकता है। कैसे, जानते हैं।

सीढ़ियां चढ़ते समय सांस फूलने का क्या कारण है

n

अस्थमा की बीमारी
जिन लोगों को अस्थमा की समस्या होती है और ये सही से मैनेज नहीं हो पाती है तो ऐसे मरीजों में सीढ़ियां चढ़ते समय सांस फूलने की समस्या देखी जा सकती है। ये स्थिति असल में बताती है कि आपके फेफड़ों की स्थिति बेहद खराब है। इसके अलावा आपको डॉक्टर के पास जाना चाहिए और सही लाइफस्टाइल के साथ इसे मैनेज करना चाहिए। 

 m
क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज
क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD) आमतौर पर धूम्रपान करने वालों की समस्या होती है। ऐसे लोगों के फेफड़े अंदर से क्षतिग्रस्त हो जाते हैं और फिर सीढ़ियां चढ़ते समय आपकी सांस फूल सकती हैं। ऐसे में डॉक्टर को दिखाएं और अपना सही से इलाज करवाएं।

m

 मोटापा
मोटापे के मरीजों में सीढ़ियां चढ़ते समय सांस फूल सकती है। दरअसल, वजन बढ़ने से फेफड़ों की दीवार पर अतिरिक्त वजन पड़ने से मांसपेशियों के लिए गहरी सांस लेना और तेजी से सांस लेना कठिन हो जाता है। इससे मस्तिष्क का श्वास नियंत्रण बिगड़ जाता है और जब सीढ़ियां चढ़ते हैं और तेजी से सांस लेते हैं तो सांस फूलने लगती है।

n

एट्रियल फिब्रिलेशन
एट्रियल फिब्रिलेशन में दिल की धड़कने तेज हो जाती हैं। ये असल में ब्लॉकेज की वजह से हो सकता है।  होता ये है कि सीढ़ियां चढ़ते समय आपकी मांसपेशियां अचानक तेज गति के लिए तैयार नहीं होती हैं। इसका परिणाम यह होता है कि आपके फेफड़े आपके शरीर को अधिक हवा की आपूर्ति करने के लिए अधिक समय तक काम करते हैं, जिससे आपको बहुत अधिक घबराहट हो सकती है और सांस फूल सकता है। तो, इस लक्षण को नजरअंदाज न करें और डॉक्टर को दिखाएं।

 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story