धीमे जहर का काम करता हैं चाय को बार-बार गर्म करके पीना, जानें इससे होने वाले नुकसान

m
WhatsApp Channel Join Now

भारतीय लोगों को चाय पीने का बहुत शौक होता है। भारतीय पानी के बाद जिस तरह पदार्थ का सबसे ज्यादा सेवन करते हैं वह है चाय। दिन की शुरूआत करने से लेकर मूड अच्छा करने और थकान मिटाने तक का जिम्मा चाय ने उठाया हुआ है। कई लोग चाय के शौकीन तो होते हैं लेकिन आलस के कारण एक बार चाय बना लेते हैं और फिर बार-बार गर्म करके इसका सेवन करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपका ये शौक और आलस आपकी सेहत पर भारी पड़ सकता है। जी हां, बार-बार चाय को गर्म करके पीना सेहत को काफी नुकसान पहुंचाता हैं। आज इस कड़ी में हम आपको बताने जा रहे हैं कि किस तरह इस आदत से आपकी सेहत को नुकसान होता हैं। आइये जानते हैं इनके बारे में...

m
रखी हुई चाय में आ जाते हैं बैक्टीरिया

ध्यान रखें कि काफी देर से रखी चाय की पीने से बचें। रखी हुई चाय में कई बैक्टीरिया आ जाते हैं, जो कि आपकी सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं। अगर आप दूध वाली चाय का सेवन करते हैं तो रखी हुई चाय में माइक्रोब्स पैदा होने का खतरा रहता है। वहीं, अगर आप हर्बल टी रखी हुई गर्म करके पीते हैं तो भी इसे ना पिएं, क्योंकि इसके अंदर मौजूद सभी गुण बाहर निकल जाते हैं। रीहीट करने से बैक्टिरीया जैसे माइक्रोब्स पनपने लगते हैं। जो शरीर के अंदर कई प्रकार की समस्याओं और कैंसर का कारण भी साबित हो सकती हैं।

m
पेट से जुड़ी बीमारियों का खतरा

जब भी आप चाय को गर्म करके पीते हैं, तो ऐसा करने से चाय के सभी गुण और अच्छे यौगिक बाहर निकल जाते हैं। जिसके बाद इसे पीना ना केवल स्वादहीन हो जाता है। बल्कि यह सेहत को भी खराब करता है। आपको बता दें कि चाय गर्म करके पीने से आपको दस्त, उल्टी, ऐंठन, और पाचन से जुड़ी समस्याएं पैदा हो सकती हैं। इस लिहाज से कहा जा सकता है कि चाय को गर्म करके नहीं पीना चाहिए।

m
पार्किंसंस रोग का खतरा

रिसर्च गेट के मुताबिक पार्किंसंस रोग शरीर की एक न्यूरोलॉजिकल कंडीशन है, जिसमें न्यूरॉस पर प्रभाव पड़ता है। इससे हमारी याददाश्त और सोचने व किसी काम पर फोकस करने की स्पीड धीरे धीरे कम होने लगती है। चाय के ज्यादा सेवन और उसे रीहीट करके पीने से इस बीमारी का खतरा बढ़ने लगता है। अगर आपको कब्ज, मांसपेशियों में एठन, आवाज़ में कंपन, हाथों का मुड़ना या स्मैल डिस्ऑर्डर हो रहा है, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

m
माइक्रोबियल ग्रोथ

अगर आप चाय को लंबे समय तक यानी करीब 4 घंटे तक इसे छोड़ देते हैं, तो इस दौरान चाय में बहुत से बैक्टीरिया और रोगाणु प्रवेश कर जाते हैं। ऐसे में अगर आप चाय को गर्म करते हैं तो इससे ना केवल स्वाद बदलता है। बल्कि चाय के अंदर मौजूद सभी फायदेमंद पोषक तत्व बाहर निकल जाते हैं। वहीं ज्यादातर भारतीय लोग अक्सर दूध वाली चाय का सेवन ही करते हैं। जिसमें जल्दी माइक्रोब्स पैदा होने का खतरा रहता है। इसके अलावा अगर आप हर्बल टी गर्म करके पीते हैं तो इसके अंदर मौजूद सभी गुण भी बाहर निकल जाते हैं। इसलिए चाय को ज्यादा देर तक ना रखें और गर्म करके ना पिएं।

m

प्री एक्लेमप्सिया

प्री एक्लेमप्सिया एक प्रेग्नेंसी डिसऑडर है। जो ब्लड प्रेशर से संबधित है। ये बीमारी अधिकतर 20 वीक्स के बाद ही गर्भवती महिला को प्रभावित करती है। ये बीमारी प्रेगनेंट महिला के लंग्स और लीवर पर अटैक करती है। दरअसल, गर्भवती महिलाएं दिनभर में कई बार चाय का सेवन करती है। रिसर्च के मुताबिक 3 से लेकर 10 फीसदी मामले प्रेग्नेंट महिलाओं में पाए जाते हैं। चाय में पाए जाने वाले कई तत्व बॉडी को प्रभावित करने का काम करते हैं।

m

टैनिन का बाहर निकलना

अगर आप चाय के बहुत ज्यादा शौकीन हैं तो जाहिर है कि आप स्वाद में किसी तरह का समझौता नहीं चाहते होंगे। लेकिन अगर आप एक चाय को लंबे समय तक रखने के बाद उसे गर्म करके पीते हैं तो इससे टैनिन बाहर निकल जाता है, जिसकी वजह से चाय का स्वाद पूरी तरह कड़वा हो जाता है। ऐसे में यह चाय आपके मुंह का स्वाद भी बेकार कर देगी।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story