इन 4 लक्षणों को भूलकर भी न करें नजरअंदाज, जीवनभर बना देगा जोड़ों का मरीज

m

खानपान में गड़बड़ी के कारण आजकल ज्यादातर लोग क्रोनिक बीमारियों का सामना कर रहे हैं। बता दें कि क्रोनिक बीमारियों में डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल का नाम शामिल है। इन्हीं में से एक रूमेटाइड आर्थराइटिस। आपने गठिया रोग का नाम तो कई बार सुना होगा। इसी तरह की रूमेटाइड आर्थराइटिस नाम की बीमारी भी है। ये एक ऑटोइम्यून रोग है, जिसमें इम्यून सिस्टम शरीर के जोड़ों को नुकसान पहुंचाता है। ये रोग इतना खतरनाक है कि इससे मरीज को जीवनभर जोड़ों की दिक्कत होती है। लेकिन हेल्थ एक्सपर्ट्स ये भी कहते हैं कि समय पर इस रोग की पहचान करके इसे गंभीर होने से बचाया जा सकता है। आइए जानते हैं इस बीमारी के लक्षणों के बारे में -

m

थकान रहना
भारी काम करने के बाद थकान होना साधारण बात है लेकिन दिनभर छोटे-छोटे काम करने पर शरीर थकना कई बीमारियों का संकेत हो सकता है। रूमेटाइड आर्थराइटिस का भी कुछ ऐसा ही लक्षण है। अगर आपको लगातार कोई दिनों से दिन में थकान या कमजोरी महसूस हो रही है, तो डॉक्टर से बात कर लेनी चाहिए। 

m

जोड़ों में सूजन

जोड़ों में सूजन व लालिमा महसूस होना गठिया का प्रमुख संकेत हो सकता है। अगर आपको बिना चोट लगे या बिना किसी कारण से सूजन व लालिमा हो रही तो डॉक्टर से बात करें।

m हड्डी में बदलाव

शरीर के किसी जोड़ की आकृति या आकार में बदलाव होना भी इसी गंभीर बीमारी का कारण है। हड्डी में गांठ पड़ना भी रूमेटाइड आर्थराइटिस का एक लक्षण हो सकता है। इसलिए इस लक्षण को बिल्कुल इग्नोर न करें। 

m

भूख लगना

शायद आपको ये जानकर हैरानी हो लेकिन अगर आपको भूख नहीं लगती तो ये भी रूमेटाइड आर्थराइटिस का कारण हो सकता है। यह लक्षण आमतौर पर अन्य किसी स्वास्थ्य समस्या से जुड़ा हुआ भी हो सकता है। इसलिए हड्डी या जोड़ों में दर्द और सूजन महसूस होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह करें। 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story