इस एक एक्‍सरसाइज के है कई फायदे, मेंटली प्रेशर को कम करने के साथ आपको रखेगा पूरी तरह फिट
 

ल

आज के समय में खुद को फिट रखना एक सबसे बड़ी चुनौती है। हमारे जीवन में इतनी अनिश्चितता है, कि अपने हेल्थ के साथ मानसिक स्वास्थ्य की भी देखभाल करना बहुत जरुरी है, क्योंकि मेंटली फिट होना भी बहुत आवश्यक है। आज हम आपको एक ऐसे एक्‍सरसाइज के बारे में बताएंगे जो आपको फिजिकली और मेंटली दोनों तरह से फिट रखेगा और आपके मन को भी शांत कर मानसिक तनाव दूर करेगा। 

हम आपको पिलाटेस के बारे में बताते है यह एक वर्कआउट से कहीं ज्यादा है। इसे मुख्य शक्ति के रूप में जाना जाता है और हम अक्सर पिलाटेस के शारीरिक लाभों के बारे में बात करते हैं, लेकिन हमारे मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य के लिए भी इसके कई लाभ हैं। रिफॉर्मर पिलाटेस आपकी मसल्‍स को स्‍ट्रेच करता है, तनाव को कम करता है, मसल्‍स को रिलैक्‍स देता है और यहां तक कि दर्द से भी छुटकारा दिला सकता है। 


माइंडफुलनेस के लिए सांसों पर ध्यान करता है केंद्रित

आपने शायद सुना होगा कि मन को शांत करने के लिए सांस सबसे शक्तिशाली उपकरणों में से एक है। पिलाटेस में श्वास एक सेंट्रल फोकस है, इसका उपयोग जीवन स्थितियों में आपके दिमाग को शांत करने और आपको तनावपूर्ण स्थिति से निकालने के लिए किया जा सकता है। 

हर पिलाटेस एक्‍सरसाइज में एक विशेष श्वास पैटर्न शामिल होता है जो मसल्‍स को ऑक्सीजन की आपूर्ति करने में मदद करता है, अपशिष्ट उत्‍पादों को हटाता है और आपको अपनी सांस रोकने से रोकता है।

डिप्रेशन और चिंता को दूर करने में मददगार

जब आप लंबे समय तक मानसिक तनाव के हाई लेवल का अनुभव करते हैं तब जीवन भारी लगने लगता है। फिजिकल एक्‍सरसाइज को अपनी दिनचर्या में शामिल करने से डिप्रेशन और चिंता से गुजर रहे लोगों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

m

हाल के कई अध्ययनों में पाया गया है कि पिलाटेस ब्रेन में केमिकल्‍स के लेवल (कोर्टिसोल, सेरोटोनिन और एंडोर्फिन) को बदलकर डिप्रेशन और चिंता के उपचार में सहायता कर सकता है और नकारात्मक विचारों से ध्यान भंग कर सकता है, दिमागीपन को बढ़ा सकता है, तनाव मुक्त कर सकता है और सेल्‍फ-केयर रूटीन बनाने में मदद कर सकता है।

तनाव और नींद में सुधार करने में मददगार

कई हालिया अध्ययनों ने साबित किया है कि नींद की कमी से सभी प्रकार के मानसिक स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं, जब आप पर्याप्त नींद नहीं ले रहे होते हैं, तब आपकी मसल्‍स फूल जाती हैं और दर्द हो सकता है। नींद विकारों पर काबू पाने के प्राकृतिक तरीके के रूप में एक्‍सपर्ट द्वारा रेगुलर एक्‍सरसाइज करने की सिफारिश  की जाती है, लेकिन क्या होगा यदि आप अभी भी सो नहीं पा रहे हैं? 

ल

यह वह जगह है जहां पिलाटेस दिलचस्प हो जाता है: जोसेफ पिलाटेस विशेष रूप से कुछ पिलाटेस मूव्‍स का सुझाव देते हैं जिनमें स्ट्रेचिंग और स्पाइनल रोलिंग शामिल हैं जो सर्कुलेशन में सुधार करने, कठोर जोड़ों को खोलने, मसल्‍स को स्‍ट्रेच करने में मदद करेंगे। इसलिए यह आपकी नींद की अवधि और नींद की गुणवत्ता को बढ़ाता है।

इस तरह से आप कह सकते हैं कि वर्कआउट करना न केवल आपके शरीर के लिए बल्कि आपके दिमाग के लिए भी महत्वपूर्ण है। पिलाटेस शारीरिक स्वास्थ्य और शक्ति दोनों के लिए बल्कि मानसिक और संज्ञानात्मक स्वास्थ्य के लिए भी बेहद प्रभावी है। यदि आप अपने वर्कआउट का आनंद लेते हैं और केंद्रित रहते हैं, तो आप खुश और शांत महसूस करेंगे।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story