बारिश के मौसम में पनपने लगती हैं मुंहासों की समस्या, इन उपायों से पाएं छुटकारा

n

खूबसूरत और बेदाग त्वचा हर किसी को पसंद होती है। लेकिन बारिश के मौसम में इस चाहत पर तब पानी फिर जाता हैं जब मुंहासों या पिंपल की समस्या पनपने लगती हैं। खासकर जिनकी त्वचा ऑयली यानी तैलीय है, उन्हें पिंपल ज्यादा परेशान करते हैं। नमी और बैक्टीरिया ज्यादा पनपने के कारण बारिश के मौसम में त्वचा की अधिक देखभाल करनी पड़ती है। मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए लोग तरह-तरह के स्किन केयर प्रोडक्ट्स यूज करते हैं जिनके इस्तेमाल से मुंहासे तो ठीक हो जाते हैं लेकिन निशान रह जाते हैं। ऐसे में आज हम आपके लिए कुछ ऐसे कुदरती उपाय लेकर आए हैं जिनकी मदद से मुंहासों के साथ ही इनके निशान से भी छुटकारा मिलेगा। आइये जानते हैं इन उपायों के बारे में -

v

संतरे के छिलके का पाउडर

साइट्रिक एसिड की अच्छाई से भरपूर संतरे के छिलके का पाउडर उन लोगों के लिए एक आशीर्वाद है जो अपनी त्वचा से पिंपल्स के निशान को हटाना नहीं जानते हैं। संतरे के छिलके के चूर्ण को बराबर भाग में शहद के साथ मिलाएं। सभी गांठों को हटाने और एक चिकना पेस्ट बनाने के लिए इसे अच्छी तरह मिलाएं। इस पेस्ट को अपने चेहरे के प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं जो कि पिंपल्स से प्रभावित हैं। इसे 10-15 मिनट तक लगा रहने दें और गुनगुने पानी से धो लें। पिंपल्स के निशान हटाने के लिए इसे हर दूसरे दिन में एक बार आजमाएं।

b

टी ट्री ऑयल

टी ट्री ऑयल भी एक्ने स्कार यानी मुंहासों के निशान को हटाने में काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसमें एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, को मुंहासों और दाग-धब्बों को हटाने में मदद कर सकते हैं। इसके लिए आप जैतून के तेल के टी ट्री ऑयल की 2-4 बूंदें मिलाएं। अब इस मिश्रण को प्रभावित हिस्से पर लगाएं और रातभर लगा रहने दें। सुबह उठकर पानी से चेहरे को धो लें।

b

एलोवेरा

एलोवेरा स्किन को हाइड्रेट रखने के साथ ही आपके चेहरे से एक्सट्रा ऑयल भी निकाल देता है। एलोवेरा जेल को रात में लगाना सबसे ज्यादा कारगर है। एलोवेरा जेल में 4-5 ड्रॉप्स टी ट्री ऑयल की डालकर इसे रात में सोने से पहले चेहरे पर जरूर लगाएं। इससे रेग्युलर लगाने से आपके पुराने से पुराने पिम्पल्स के निशान भी चेहरे से हट जाएंगे।

b

दालचीनी

यह एक ऐसा उपाय है जो मुंहासों के मामले में कभी फेल नहीं होता। शहद और दालचीनी को मिलाकर जब एक साथ मुंहासों पर लगाया जाता है, तो उनके एंटीबैक्‍टीरियल गुण चेहरे को बेदाग बनाकर मुंहासों का सफाया कर देते हैं। इसे चेहरे पर लगाने के लिए 2-3 बड़े चम्मच शहद में 1 बड़ा चम्मच दालचीनी पाउडर मिनाएं और मुहांसों पर एक कॉटन बॉल की मदद से लगाएं। इसे 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें। बाद में इसे अच्छी तरह से धो लें।

n

मसूर की दाल

मसूर की दाल और कच्चे दूध का फेस पैक भी पिम्पल्स के निशान हटाने में बेहद कारगर है। इसके लिए दाल को एक कटोरी दूध में रात भर भिगोकर रख दें। अगली सुबह इसे पीस लें। इस मिश्रण पिम्पल्स के निशानों पर लगा लें। रोजाना इस पैक को रिपीट करें। इसे लगाने से एक सप्ताह के अंदर आपके चेहरे पर पड़े निशान साफ हो जाएंगे।

b

मुल्तानी मिट्टी

मुल्तानी मिट्टी तैलीय और मुँहासे त्वचा के लिए अच्छी है और यह अतिरिक्त तेल को अवशोषित कर, उनको रोम छिद्र से मुक्त करती है। मुल्तानी मिट्टी के बराबर, चंदन पाउडर और गुलाब जल के अनुपात को मिक्स करें। आप पेस्ट में एक बेहतर स्थिरता लाने के लिए और गुलाब जल को मिला सकते हैं। अपने चेहरे पर यह गीली मिट्टी पैक लगाएं। सूख जाने के बाद इसको धो लें।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story