पाकिस्तान ने भ्रष्टाचार के आरोप पर सऊदी अरब में तैनात राजदूत को वापस बुलाया

पाकिस्तान ने भ्रष्टाचार के आरोप पर सऊदी अरब में तैनात राजदूत को वापस बुलाया
इस्लामाबाद। पाकिस्तान सरकार ने पाकिस्तानी दूतावासों से रिश्वत मांगने की शिकायतों की उच्चस्तरीय जांच का हिस्सा बनाने के लिए पाकिस्तान दूतावास के अन्य अधिकारियों के साथ सऊदी अरब में तैनात अपने राजदूत को वापस बुला लिया है।

यह घोषणा पाकिस्तान के विदेश कार्यालय में साप्ताहिक प्रेस वार्ता के दौरान हुई, जहां प्रवक्ता जाहिद चौधरी ने पुष्टि की कि सऊदी अरब में पाकिस्तान दूतावास के अधिकारियों को वापस बुला लिया गया है।

चौधरी ने पुष्टि की, सऊदी अरब में तैनात हमारे राजदूत लौट आए हैं और दूतावास के राजनयिक, सामुदायिक कल्याण और कांसुलर विंग के छह और अधिकारियों को वापस बुलाने के आदेश जारी किए गए हैं।

उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री इमरान खान ने जांच का निर्देश दिया था। प्रधानमंत्री के निर्देशों को पूरी तरह से अमल में लाया जा रहा है।

चौधरी ने कहा कि विदेशी पाकिस्तानियों के कल्याण को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

चौधरी ने कहा, पाकिस्तान सरकार विदेशी पाकिस्तानियों के कल्याण को अत्यधिक महत्व देती है। विदेशी पाकिस्तानी हमारी सबसे बड़ी संपत्ति हैं। राष्ट्रीय विकास में उनकी भूमिका अपरिहार्य है।

मजदूरों से रिश्वत लेने में कथित संलिप्तता की शिकायत के बाद, प्रधानमंत्री इमरान खान के आदेशों के अनुसार उच्चस्तरीय जांच शुरू की गई थी।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि इमरान ने स्थिति पर गंभीरता से विचार किया और सऊदी अरब में दूतावास या वाणिज्य दूतावास में तैनात अधिकारियों के रवैये और व्यवहार पर नाराजगी जताई।

खान ने कहा कि उन्होंने पाकिस्तानी नागरिकों के साथ दुर्व्यवहार की कई शिकायतों पर सऊदी अरब में पाकिस्तान के राजदूत की पूरे पैमाने पर जांच का आदेश दिया है। इसके अलावा, दूतावास के अधिकतम कर्मचारियों को वापस बुला लिया गया है।

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि सऊदी अरब में पाकिस्तानी नागरिकों के साथ दुर्व्यवहार के दोषी पाए जाने वालों को सख्त सजा का सामना करना पड़ेगा।

--आईएएनएस

 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये यहां क्लिक करें।

Share this story