अधिकांश ऑस्ट्रेलियाई लोग सोचते हैं कि टीकाकरण ठीक से नहीं चल रहा : सर्वेक्षण

International
 कैनबरा। ऑस्ट्रेलिया के लगभग दो तिहाई लोगों को लगता है कि देश में कोविड -19 वैक्सीन रोलआउट ठीक से नहीं चल रहा है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, ऑस्ट्रेलियाई नेशनल यूनिवर्सिटी (एएनयू) के शोधकर्ताओं ने बुधवार को महामारी और वैक्सीन रोलआउट के प्रति 3,000 से अधिक वयस्कों के ²ष्टिकोण के चल रहे सर्वेक्षण से नवीनतम रिपोर्ट प्रकाशित की।

उसमें पाया गया कि केवल 3.7 प्रतिशत लोगों को लगता है कि कार्यक्रम बहुत अच्छे से चल रहा है। जबकि 64 प्रतिशत लोगों को लगता है कि वैक्सीन कार्यक्रम बहुत अच्छी तरह से नहीं या बिल्कुल भी अच्छा नहीं है।

बुधवार सुबह तक ऑस्ट्रेलिया में 2.3 मिलियन से ज्यादा कोविड-19 टीके प्रशासित किए गए थे।

रोलआउट की गति पर चिंताओं के बावजूद, एएनयू सर्वेक्षण में पाया गया कि सुरक्षित और प्रभावी वैक्सीन पाने के इच्छुक लोगों की संख्या बढ़ी है।

अप्रैल में 54.7 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उन्हें निश्चित रूप से एक सुरक्षित टीका मिलेगा, जो जनवरी में 43.7 प्रतिशत था।

रिपोर्ट के सह-लेखक निकोलस बिडल ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा, ये निष्कर्ष बेहद महत्वपूर्ण हैं क्योंकि सरकार ने अपने टीके कार्यक्रम में जनता की भावना और विश्वास को बनाने की कोशिश की है।

हालांकि, बहुसांस्कृतिक समुदायों में केवल 44.8 प्रतिशत उत्तरदाता जो अंग्रेजी के अलावा एक भाषा बोलते हैं, कहा कि उन्हें निश्चित रूप से एक सुरक्षित टीका मिलेगा।

इन समुदायों की चिंताओं के अनुरूप और संवेदनशील संदेश सुनिश्चित करने के लिए नीतिगत ²ष्टिकोण की जरूरत है बिडल ने कहा, यह स्पष्ट है कि कम दरें हैं और यह दर्शाता है कि रिश्ते को इस तरह से प्रबंधित करने की जरूरत है जिससे अनिच्छा दूर हो।

--आईएएनएस

   

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये यहां क्लिक करें।

Share this story