चंदौली में अवैध शराब बनाने का भंडाफोड़, चार गिरफ्तार, अपमिश्रित शराब, स्प्रिट और उपकरण बरामद

chandauli police

चंदौली। अलीनगर पुलिस व आबकारी विभाग की टीम ने गुरुवार को क्षेत्र के रेमा गांव में छापेमारी कर एक अवैध शराब के अड्डे का भंडाफोड़ किया। इस दौरान भारी मात्रा में अपमिश्रित शराब, स्प्रिट और शराब बनाने के उपकरण बरामद किए गए। साथ ही चार आरोपितों को भी गिरफ्तार कर लिया गया। कार्रवाई से शराब माफियाओं में खलबली मंची है। 

प्रदेश में जहरीली शराब से आए दिन मौतों के बाद पुलिस और आबकारी विभाग की टीम अलर्ट हो गई है। एएसपी दयाराम ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि रेमा गांव स्थित एक मकान में कुछ लोग अवैध तरीके से नकली शराब बनाने का कार्य कर रहे हैं। इस पर पुलिस और आबकारी विभाग की टीम गांव पहुंची। 

सूचना के अनुसार पुलिस ने आरोपित संतोष यादव के मकान को चारों तरफ से घेर लिया। मकान के बाहर मालवाहक पर अवैध शराब लादकर सप्लाई के लिए भेजने की तैयारी थी। पुलिस को देख मकान के अंदर मौजूद लोगों में खलबली मंच गई। आरोपित मौके से भागने की कोशिश करने लगे। लेकिन मुस्तैद पुलिसकर्मियों ने घेरकर पकड़ लिया। 

मकान के अंदर से चार पेटियों में 177 शीशी अवैध देसी शराब, चार ड्रम में 750 लीटर स्प्रिट, एक गैलन में तीस लीटर अवैध शराब, नामी शराब कम्पनी के रैपर, खाली सीसी, ढक्कन, कीप, गत्ता, पांच खाली गैलन व पानी की बोतलें मिली। वहीं मौके पर एक मालवाहक मैजिक व एक कार भी बरामद हुई।

पूछताछ में आरोपित रेमा गांव के संतोष कुमार यादव, बृजेश यादव, विनोद यादव व सदर कोतवाली के लीलापुर निवासी अजीत उर्फ विक्की सिंह ने बताया कि अवैध रूप से शराब तैयार करते थे। इसके बाद नामी कम्पनियों के रैपर लगाकर बेचते हैं। बिहार में शराबबंदी होने के कारण इसकी खपत होती है। 

पुलिस आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने समेत विभागीय कार्रवाई में जुटी रही। टीम में आबकारी निरीक्षक ज्ञानप्रताप सिंह, एसओ संतोष कुमार सिंह,  एसएसआई रमेश यादव, श्रीकांत पांडेय, बाबूराम यादव, नीलम त्रिपाठी, ताराचंद सिंह आदि शामिल रहे।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक  करें।

Share this story