आलमपुर व नियामताबाद सेक्टर चार के लिए 44.48 फीसद हुआ मतदान, सुरक्षा के रहे कड़े इंतजाम

आलमपुर व नियामताबाद सेक्टर चार के लिए 44.48 फीसद हुआ मतदान, सुरक्षा के रहे कड़े इंतजाम

चंदौली। सकलडीहा ब्लाक की आलमपुर ग्राम पंचायत और नियामताबाद के जिला पंचायत सेक्टर चार के 56 बूथों पर शनिवार को पुनर्मतदान कराया गया। सुबह सात से शाम छह बजे तक 44.48 फीसद मतदान हुआ था। इस दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहे। आलमपुर में ग्रामीणों ने 26 अप्रैल को मतदान के दौरान मतपेटी में स्याही डाल दी थी। वहीं जिला पंचायत प्रत्याशी का सिंबल ही मतपत्र से गायब था। इस पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने पुनर्मतदान का निर्देश दिया था। 

मतदान के लिए पोलिंग पार्टियां शुक्रवार की शाम ही बूथों पर पहुंच गई थीं। सुबह सात बजे से मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई, जो शाम छह बजे तक चलेगी। कड़ी धूप के बावजूद मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं की लाइन लगी हुई है। दरअसल, सकलडीहा ब्लाक के 143 नंबर आलमपुर बूथ पर 26 अप्रैल को मतदान के दौरान मतदाता सूची में गड़बड़ी को लेकर विवाद हो गया। एक प्रत्याशी के समर्थक पोलिंग पार्टी के सदस्यों और पुलिसकर्मियों से भिड़ गए थे। 

इसी अफरातफरी के बीच किसी ने बूथ के अंदर जाकर एक बैलेट बाक्स में स्याही डाल दी थी। उधर नियामताबाद ब्लाक के जिला पंचायत सेक्टर चार में एक प्रत्याशी का चुनाव चिह्न गमला मतपत्र में नहीं था। यह समस्या एक-दो नहीं बल्कि 56 बूथों पर थी। इसको लेकर प्रत्याशी ने जिला निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की थी। इस पर उन्होंने पुनर्मतदान कराने का आदेश दिया था। बूथों पर इस बार सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। सुबह सात से शाम छह बजे तक बूथों पर 44.48 फीसद मतदान दर्ज किया गया। पीठासीन अधिकारियों ने स्ट्रांग रूम में मतपेटी जमा कराई। दो मई को मतों की गिनती की जाएगी।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये यहां क्लिक करें।

Share this story