वाराणसी :  हाईवे की एक लेन 31 दिन तक बंद, कांवरियों के लिए रहेगी आरक्षित, हुआ रूट डायवर्जन 

नले

वाराणसी। प्रयागराज-वाराणसी नेशनल हाईवे की बाईं लेन 31 दिन तक कांवरियों के लिए आरक्षित रहेगी। इससे वाहनों का आवागमन नहीं होगा। 21 जुलाई से सावन की शुरुआत हो रही है। उस दौरान कांवरियों की भीड़ उमड़ेगी। इसके मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है। यह व्यवस्था 20 जुलाई से 19 अगस्त तक प्रभावी रहेगी। सावन के मद्देनजर प्रदेश व जनपद स्तरीय अधिकारियों की मीटिंग में कांवरियों की सुरक्षा व सुगम यातायात को लेकर खाका तैयार किया जाएगा। 

जानिये रूट डायवर्जन प्लान 
पहले की परंपरा के अनुसार गोदौलिया से मैदागिन तक का इलाका नो ह्वीकल जोन रहेगा। सावन के महीने में शहर में रूट डायवर्जन की व्यवस्था लागू रहेगी। सावन के हर रविवार की रात 10 बजे से सोमवार की रात 12 बजे तक मैदागिन से गोदौलिया होते हुए रामापुरा तक का क्षेत्र नो ह्वीकल जोन रहेगा। इसी तरह सोमवार की रात 12 बजे तक मैदागिन से गोदौलिया तक आमजन सिर्फ पैदल ही आवागमन कर सकेंगे। प्रत्येक रविवार की शाम पांच बजे से सोमवार की रात 12 बजे तक शहर मे भारी वाहनों का प्रवेश बंद रहेगा। 

मालवाहकों के लिए व्यवस्था 
 

प्रयागराज से जौनपुर और लखनऊ की ओर जाने वाले मालवादक कछवा रोड से कपसेठी, बड़ागांव, बाबतपुर होकर जाएंगे। 

प्रयागराज से आजमगढ़ की ओर जाने वाले मालवाहक कछवा रोड से कपसेठी मोहांव चौराहा से चोलापुर होते हुए जाएंगे। 

प्रयागराज से गाजीपुर की ओर जाने वाले मालवाहक कछवा रोड से कपसेठी, बड़ागांव, बाबतपुर, कटहलगंज, चौबेपुर होते हुए जाएंगे। 

गाजीपुर से प्रयागराज की ओर जाने वाले वाहन मुनारी, गोसाईपुर होते हुए बाबतपुर से जाएंगे।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story