पुलिस उपायुक्त ने क्राइम मीटिंग में मातहतों की कसी नकेल, दिए आवश्यक निर्देश 

vns

वाराणसी। पुलिस उपायुक्त गोमती जोन मनीष कुमार शांडिल्य ने बाबतपुर कार्यालय में मातहतों संग मीटिंग की। इस दौरान क्राइम कंट्रोल की समीक्षा की। उन्होंने आपराधिक घटनाओं पर प्रभावी लगाम लगाने और शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण करने का निर्देश दिया। 

vns

पुलिस उपायुक्त ने थानों में लम्बित विवेचना/आईजीआरएस/प्रार्थना पत्र, हत्या, लूट, डकैती, चोरी, नकबजनी व महिला सम्बन्धी अपराधों की विस्तृत समीक्षा की। आईजीआरएस प्रार्थना पत्रों का भौतिक सत्यापन करते हुए समयबद्धता, गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने हेतु निर्देशित किया। कहा कि सीएम डैश बोर्ड में वर्णित विषयों पर गुणवत्तापूर्ण व समयबद्ध निस्तारण करें। चोरी, लूट, नकबजनी व महिला सम्बन्धी अपराधो (पॉक्सो अधिनियम, दहेज हत्या) का वरीयता के आधार पर निस्तारण किया  जाए। अपराधियो के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई करें। लूट/चोरी/नकबजनी के मुकदमों का खुलासा करते हुए शीघ्र निस्तारण व पेशेवर अभियुक्तों के विरुद्ध गुण्डा व गैंगस्टर की कार्रवाई करें। 

उन्होंने कहा कि पुरस्कार घोषित व टॉप-10 अपराधियों के विरुद्ध आवश्यक निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित करें। भूमि विवाद से संबंधित प्रकरणों में राजस्व विभाग से समन्वय स्थापित कर निष्पक्ष एवं त्वरित निस्तारण किया जाए। उन्होंने पब्लिक ग्रिवांस रिव्यू पोर्टल में फीडिंग की समीक्षा की। कहा कि लव जेहाद व धर्म परिवर्तन जैसे संगीन मामलों पर सतर्क दृष्टि रखी जाए तथा थाना क्षेत्र के लोगों को भी जागरूक किया जाय। उन्होंने “ऑपरेशन क्लीन”, आपरेशन दृष्टि समेत पुलिस के अन्य अभियानों के संचालन की समीक्षा की। साथ ही प्रभावी तरीके से इनके संचालन का निर्देश दिया। इस दौरान विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story