सीपी ने थानाध्यक्षों को समझाया जाम से निजात का फार्मूला, अधिक जाम वाले इलाकों पर फोकस 

vns

वाराणसी। सीपी मोहित अग्रवाल ने यातायात विभाग के पुलिस अधिकारियों व थानाध्यक्षों संग मीटिंग की। इसमें शहर में जाम को लेकर चर्चा की गई। उन्होंने मातहतों को जाम से निजात का फार्मूला बताया। सबसे अधिक जाम वाले इलाकों पर फोकस करने के निर्देश दिए। ताकि शहर को जाम मुक्त किया जा सके। 

सीपी ने थानाध्यक्षों से उनके क्षेत्र में सबसे अधिक जाम लगने वाले इलाकों के बारे में जानकारी ली। मसलन सप्ताह के किन दिनों में अधिक लगता है। जाम दिन में किस समय में अधिक लगता है। जाम लगने के मुख्य कारण के मुख्य कारण अतिक्रमण, दुकानदारों का दुकान के आगे अतिक्रमण, यलो लाइन, जेब्रा लाइन का न होना, खराब सड़क, सड़क पर अवैध निर्माण, साइन बोर्ड का न होना, पुलिस यातायात की ड्यूटी न होना, चौराहों के आसपास ठेला आदि का लगना अथवा अन्य कारण, के बाबत जानकारी ली।  

vns

सीपी ने बताया कि रोड को वनवे करके, यू-टर्न की व्यवस्था लागू कर, पार्किंग का स्थान निर्धारित कर, अतिक्रमण हटाकर, रोड डिवाइजर बनाकर अथना अन्य तरीके से भी जाम को समाप्त किया जा सकता है। उन्होंने गर्मी में सड़क पर ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मियों की सराहना की। 

उन्होंने कहा कि चौराहे के आसपास 200 मीटर तक सड़कें अतिक्रणमुक्त रहें। कार्ययोजना तैयार कर अतिक्रमण हटवाएं। यातायात व्यवस्था में लगाए गए पुलिस बल की ड्यूटी प्वाइंट पर अधिकारीगण को ब्राफिंग की जाए। थाना प्रभारी यातायात व्यवस्था को दुरूस्त रखने में सहयोग करें। विशेष दिनों व समय पर बेहतर यातायात प्रबंध किए जाएं। ट्रैफिक एडवाइजरी कमेटी के सुझावों पर अमल करें। यातायात को बाधित करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाए। ड्यूटी के दौरान जनता के साथ दुर्व्यवहार न किया जाए। ऐसा करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई तय है।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story