राष्ट्रपति को पत्र लिखकर अरुण गोविल को उच्च सदन में भेजे जाने की मांग, BHU के छात्र की डिमांड

letter to president

वाराणसी। लोकसभा चुनाव में मेरठ सीट पर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी अरुण गोविल को लेकर बीएचयू के शोध छात्र ने राष्ट्रपति को पत्र लिखा है। छात्र ने गोविल को प्रत्याशी न बनाकर सीधे उच्चसदन में भेजे जाने की मांग की है।

काशी हिंदू विश्वविद्यालय के छात्र अभिषेक सिंह का कहना है कि हम भगवान श्री राम के जीवन पर आधारित धारावाहिक रामायण में भगवान राम का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल का राजनीति में स्वागत करते हैं। भारतीय राजनीति में अच्छे लोगों की आवश्यकता है। 

90 के दशक में भगवान राम के नाम पर फेमस हुए अरुण गोविल की छवि वैसी ही बनी हुई है। संभव है कि बीजेपी ने अरुण गोविल को प्रत्याशी बनाया है, तो उनके विपक्ष में भी प्रत्याशी उतरेंगे। ऐसे में कुछ लोग उनके पक्ष में वोट करेंगे। कुछ लोग उनके खिलाफ नारेबाजी भी करेंगे। जिससे हमारी आस्था आहत होगी। इसलिए छात्र ने मांग किया है कि अरुण गोविल को प्रत्याशी न बनाकर सीधा उच्च सदन में भेजा जाय।

बता दें कि अरुण गोविल ने 90 के दशक में रामानंद सागर के धारावाहिक ‘रामायण’ से लोकप्रियता पाई थी। अरुण गोविल ने इस धारावाहिक के जरिए लोगों के दिलों में जो जगह बनाई। लोग उनके भीतर ही अपने आराध्य भगवान राम को देखने लगे। अब उनकी लोकप्रियता को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें यूपी एक मेरठ सीट से उम्मीदवार बनाया है। 
 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story