राष्ट्रीय सद्भाव में युवाओं की भूमिका पर परिचर्चा, शिक्षाशास्त्र की HOD बोलीं- संबंधों को मजबूत बनाएं

mgkvp

वाराणसी: महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के शिक्षाशास्त्र विभाग में कौमी एकता सप्ताह मनाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।

शुक्रवार को राष्ट्रीय सद्भाव में युवाओं की भूमिका विषय पर परिचर्चा का आयोजन किया गया, जिसमें विभागाध्यक्ष डॉ शैलेंद्र वर्मा ने युवाओं को सामाजिक सद्भाव की मजबूती के लिए अपने आपसी संबंधों को मजबूत करने पर बल दिया।

बी.एड प्रथम सेमेस्टर की छात्रा रेशमा परवीन ने परिचर्चा में अपने विचार रखते हुए राष्ट्र के विकास के लिए युवाओं की शक्ति पर बल दिया। दूसरे प्रतिभागी राम प्रकाश ने कहा कि भाषावाद, क्षेत्रवाद सहित अपनी संकीर्ण विचारधाराओं का त्याग करके ही राष्ट्र का समुचित विकास संभव है।

छात्रा सपना ने बताया कि कौमी एकता सप्ताह हमारे देश में सांप्रदायिक सद्भाव और विविधता में एकता की संस्कृति को बढ़ावा देने और उसे मजबूत करने के लिए एक सशक्त माध्यम है। इस परिचर्चा में शुभांगिनी, रेशमा परवीन, रामप्रकाश, प्रेम प्रकाश खत्री, सपना यादव तथा अनुज कुमार मिश्रा आदि कई प्रतिभागियों ने अपने विचार रखें।

कार्यक्रम का संचालन करते हुए डॉ. वीणावादिनी ने कहा कि कौमी एकता सप्ताह का उद्देश्य देश के सभी नागरिकों को एकता में बांधकर देश के हित में कार्य करना है।

इस अवसर पर डॉक्टर राखी, डॉक्टर अभिलाषा, ज्योत्सना राय एवं समस्त शिक्षक एवं विद्यार्थी उपस्थित थे।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story