पित्ताशय की पथरी का ऑपरेशन कराने आए दो मरीजों की मौत

पित्ताशय की पथरी का ऑपरेशन कराने आए दो मरीजों की मौत


-परिजनों ने डॉक्टरों पर लगाया लापरवाही का आरोप

नई दिल्ली, 21 सितंबर (हि.स.)। दक्षिण दिल्ली के ग्रेटर कैलाश स्थित एक मेडिकल सेंटर में पित्ताशय की पथरी का ऑपरेशन कराने आए दो मरीजों की ऑपरेशन के बाद एक ही दिन में मौत हो गई। मृतकों की पहचान किरण (27) और असगर अली (45) के रूप में हुई है। सोमवार को दोनों का मेडिकल सेंटर में लेप्रोस्कोपिक सर्जरी (दूरबीन शल्य पद्धति) के जरिये गॉल ब्लैडर का ऑपरेशन किया गया था। ऑपरेशन के बाद दोनों की तबीयत बिगड़ी और इनकी मौत हो गई।

परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए पुलिस से शिकायत कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों मरीजों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए एम्स अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिए हैं। मेडिकल बोर्ड से दोनों के शवों का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। दिल्ली पुलिस ने सरकारी से मेडिकल बोर्ड के गठन की सिफारिश की है।

पुलिस के मुताबिक महिपालपुर निवासी किरण को पित्त की पथरी के ऑपरेशन के लिए अग्रवाल मेडिकल सेंटर, ग्रेटर कैलाश पार्ट-1 में सोमवार को भर्ती किया गया था। डॉक्टरों ने इनका दूरबीन शल्य पद्धति से ऑपरेशन कर दिया। लेकिन इसके बाद अचानक इनकी तबीयत बिगड़ी और इनको दौरे पड़ने लगे। अस्पताल के निदेशक डॉक्टर नीरज अग्रवाल ने बताया कि मरीज को कुछ इंजेक्शन भी दिए गए, लेकिन इनकी मौत हो गई। वहीं दूसरे मामले में रतिया मार्ग, संगम विहार निवासी असगर अली का भी सोमवार को इसी तरह पित्त की पथरी का ऑपरेशन किया गया।

उनकी तबीयत भी ऑपरेशन के बाद अचानक बिगड़ गई। उनको पेट में दर्द और सांस लेने में दिक्कत होने लगी। तबीयत बिगड़ने पर मेडिकल सेंटर के डॉक्टरों ने असगर को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनको मृत घोषित कर दिया।

एक दिन में दो लोगों की मौत के बाद मेडिकल सेंटर में हंगामा हो गया। परिवारों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया। पुलिस परिजनों के आरोप पर मामले की जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि छानबीन के बाद तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर तय किया जाएगा कि इलाज में लापरवाही बरती गई या नहीं।

हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story