रिसेप्शन पार्टी के दौरान हर्ष फायरिंग में दूल्हा के दोस्त की मौत

रिसेप्शन पार्टी के दौरान हर्ष फायरिंग में दूल्हा के दोस्त की मौत


रिसेप्शन पार्टी के दौरान हर्ष फायरिंग में दूल्हा के दोस्त की मौत


रिसेप्शन पार्टी के दौरान हर्ष फायरिंग में दूल्हा के दोस्त की मौत


बेगूसराय, 22 नवम्बर (हि.स.)। बेगूसराय में हर्ष फायरिंग का सिलसिला लगातार जारी है। सोमवार की देर रात बलिया थाना क्षेत्र में रिसेप्शन के दौरान हर्ष फायरिंग में एक युवक की मौत हो गई। मृतक युवक खगड़िया जिला के महेशखूंट थाना क्षेत्र स्थित बिचला टोला निवासी सच्चिदानंद चौरसिया का पुत्र रवि कुमार है।

रवि अपने दोस्त बलिया थाना क्षेत्र के लखमिनिया शेरनचक निवासी संजय शर्मा के रिसेप्शन में आया था। जहां की हर्ष फायरिंग में ताबड़तोड़ गोली चलने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद कोहराम मच गया है, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजकर फायरिंग करने वाले की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

बताया जा रहा है कि महेशखूंट निवासी रवि कुमार एवं शेरनचक निवासी संजय शर्मा के बीच पटना में पढ़ाई करने के दौरान दोस्ती हुई थी और तभी से दोनों बराबर संपर्क में थे। संजय की शादी के बाद सोमवार की रात शेरनचक दुर्गा मंदिर के समीप वर वधू स्वागत समारोह (रिसेप्शन पार्टी) आयोजित था। जिसमें शामिल होने के लिए रवि अपने भाई के साथ पहुंचा था।

वह दुल्हा-दुल्हन के साथ स्टेज पर था, इसी दौरान किसी ने लड़की के स्वागत में ताबड़तोड़ गोलीबारी शुरू कर दी। जिसमें एक गोली संजय के छाती में लग गई तथा उसकी मौके पर ही मौत हो गई। गोली लगते ही घटनास्थल पर अफरा तफरी मच गई तथा गोली चलाने वाला युवक फरार हो गया। इसके बाद लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। इधर अपने दोस्त की मौत से दुल्हा संजय के परिवार में भी कोहराम मच गया है।

उल्लेखनीय है कि रविवार की रात बेगूसराय नगर थाना क्षेत्र में एक बारात निकलने के दौरान गोलीबारी का वीडियो सोमवार को वायरल हुआ था। जिस पर एसपी ने जांच के आदेश दिए तथा कड़ी हिदायत दी थी कि लाइसेंस या गैर लाइसेंसी किसी भी हथियार से हर्ष फायरिंग करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। लेकिन एसपी के बयान के कुछ देर बाद ही फिर हर्ष फायरिंग हो गई, जिसमें एक युवक की मौत हो गई है।

बेगूसराय में हर्ष फायरिंग की घटना कोई नई बात नहीं है। पुलिस मुख्यालय और जिला पुलिस के लाख कड़ाई के बावजूद यहां शादी विवाह ही नहीं, जन्मदिन के मौके पर भी ताबड़तोड़ गोलीबारी होती है। जिसमें मौत और घायल होने वालों की संख्या साल में दर्जनों में रहती है। इसके बावजूद लोग सतर्क नहीं हो रहे हैं तथा ऐसी घटनाएं हो रही है जो समाज के लिए शर्मनाक है।

हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story