जम्मू के आतंकी घटना में वाराणसी के दंपति घायल, बेटे का हाल बताते पिता की भर आईं आंखें, विधायक ने पूछा कुशलक्षेम

varanasi news
वाराणसी। जम्मू में रविवार देर रात हुए आतंकी हमले में बनारस के कालभैरव के रहने वाले दम्पति घायल हो गये। दोनों अपने वैवाहिक वर्षगांठ पर वैष्णो देवी दर्शन करने गये हुए थे। शिव खोड़ी से कटरा लौटते समय रियासी में हुए आतंकी हमले में बस ड्राईवर को गोली लगी और बस गहरे खाई में जा गिरी।इस घटना में 10 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। 

अतुल और उनकी पत्नी के घायल होने की सूचना देर रात जम्मू प्रशासन ने उनके परिजनों को दी। जिसके बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। अतुल की मां रात से ही अपने बेटे व बहू के लिए परेशान थीं, सुबह वीडियो कॉल से बात करने पर उन्हें राहत मिली है। अतुल के पिता राजेश मिश्रा ने सरकार और काशी के सांसद से एयर स्ट्राइक कर पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग की है।

7 जून 2023 को हुई थी शादी

अतुल की मां की आंखें रह-रह के डबडबा जा रही हैं। कैमरे पर रो दी और कुछ भी बोल नहीं सकीं। बाद में उन्होंने बताया कि अतुल और नेहा की शादी 7 जून 2023 को हुई थी। अतुल ने मुझे 5 तारीख को बताया कि मां हम और नेहा शादी की वर्षगांठ मनाने वैष्णो देवी जा रहे हैं। इसके बाद वो दोनों जम्मू रवाना हो गए। दोनों जाते समय बहुत खुश थे।

मां वैष्णो के दर्शन कर लौटते समय हुआ हादसा

अतुल मिश्रा के पिता राजेश मिश्रा घटना के बारे में बताते हुए भावुक हो जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि उनका बेटा पार्ट टाइम अकाउंटिंग का काम करता है। शादी की पहली वर्षगांठ पर दर्शन करने के लिए वाराणसी से 6 तारीख को निकला था और 7 तारीख को वहां पहुंचकर दर्शन को निकला और रात में माता वैष्णो देवी का दर्शन कर अगले दिन 8 जून को वापस कटरा आ गया। रात भर कटरा रुक कर दोनों 9 तारीख को शिवखोड़ी दर्शन के लिए निकल गए। वहां से शाम में लौटते समय रियासी में बस पर आतंकी हमला हो गया।

देर रात घटना की हुई जानकारी

राजेश ने आगे बताया कि रात 10 बजे के बाद मेरे नंबर पर जम्मू प्रशासन के किसी अधिकारी का फोन आया और अतुल के बारे में पूछताछ की और उसके बाद स्थिति से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि बेटे और बहू दोनों घायल हैं। बेटे को हाथ में और बहुत के सिर में चोट आई है। दोनों ठीक हैं।

अतुल ने अपने पिता को बताया कि बस अनियंत्रित होकर खाई में गिरी तो सभी लोगों को चोटें आईं। जो लोग पीछे बैठे थे वो आगे की तरफ यात्रियों पर आ गए। बेटे अतुल के हाथ में फ्रेक्चर है और अंदरूनी चोटें आई है जबकि बहू के सिर में चोट है। राजेश ने बताया कि बेटे से तो वीडियो काल पर बात हुई पर बहू को सिर्फ देख पाए वह बात नहीं कर पाई।

सर्जिकल स्ट्राइक कर श्रद्धालुओं को सुरक्षा दें मोदी जी

राजेश मिश्रा ने बताया कि उनके बेटे और बहू ने आतंकी घटना के दौरान सीट के नीचे छुपकर अपनी जान बचायी। कहा कि मोदी जी तीसरी बार प्रधानमंत्री बन रहे हैं। एक बार फिर से सर्जिकल व एयर स्ट्राइक कर पाकिस्तान को सबक सिखाएं। जिस प्रकार इजरायल मुस्लिम देशों से अपने देश की सुरक्षा के लिए अकेले लड़ता है, उसी प्रकार भारत भी छोटे से देश पाकिस्तान को सबक सिखाये। श्रद्धालुओं को सुरक्षा दी जाय। 

बता दें कि आतंकी घटना में घायल अतुल और उनकी पत्नी नेहा को वाराणसी प्रशासन सुरक्षित वापस लाने की तैयारी में है। ओईसी बीच शहर दक्षिणी के विधायक नीलकंठ तिवारी पीड़ित परिवार का कुशलक्षेम जानने पहुंचे। जहां उन्होंने हर संभव मदद का आश्वासन दिया। 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story