दो साल पहले गायब हुए बालक को कोतवाली पुलिस ने ढूंढ निकाला, नाम बदलकर बड़ागांव में संस्था करती थी देखभाल, परिजन बोले – थैंक्यू

kotwali police
वाराणसी। कोतवाली थाना पुलिस ने 14 वर्षीय गुमशुदा विक्षिप्त बालक को 2 वर्ष 4 माह बाद सकुशल बरामद किया है। थाना प्रभारी राजीव सिंह ने बालक को उनके परिजनों को सौंपा। जिसके बाद परिजनों की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने कोतवाली थाने के प्रभारी व उनकी पूरी टीम को धन्यवाद दिया। 

कोतवाली थाने में वर्ष 2022 में दर्ज मुकदमे के मुताबिक, 12 वर्षीय गुमशुदा बालक जो विक्षिप्त है, वह अपने घर से कहीं गम हो गया था। वह न तो बोल सकता है और न ही कुछ लिख-पढ सकता है। पुलिस उसकी पिछले दो वर्षों से तलाश कर रही थी। इसी बीच चौकी प्रभारी अमियामण्डी सुमन यादव को 4 जून को सोशल मीडिया के माध्यम से पता चला कि उक्त बालक राजा नाम से बड़ागांव थाना क्षेत्र के बाबतपुर में कुटुंब/एशियन संस्था के लोगों के साथ रह रहा है। पुलिस की एक टीम बालक के परिजनों के साथ वहां पहुंची। जहां बालक की पहचान की गई। 

जानकारी के मुताबिक, यह बालक 9 फरवरी 2022 को अपने घर से रास्ता भटक कर सिटी रेलवे स्टेशन पहुच गया था। चूकि गुमशुदा बालक न तो बोल पाता है और ना ही लिख पढ पाता है। जिस कारण वह अपने घर न पहुंच कर ट्रेन से जौनपुर पहुच गया। जहां पर थाना लाइन बाजार जौनपुर पुलिस द्वारा उसे मंडुआडीह वाराणसी स्थित एनजीओ में भेज दिया गया। जहां से एनजीओ द्वारा बालक को सीडब्लूसी वाराणसी के समक्ष प्रस्तुत किया गया। जिसपर सीडब्लूसी द्वारा उक्त बालक को अन्य नाम से 2 मार्च 2022 को कुटुंब/एशियन संस्था बाबतपुर बड़ागाव वाराणसी में दाखिल किया गया था, तभी से गुमशुदा बालक कुटुंब/एशियन संस्था में अन्य नाम से रह रहा था और संस्था द्वारा गुमशुदा बालक का दवा इलाज बीएचयू से कराया जा रहा है। 

गुमशुदा बालक संस्था में अपनी एक्टिविटी से काफी फेमस था। संस्था द्वारा बताया गया कि गुमशुदा बालक को गोद लेने के लिए एक परिवार द्वारा आवेदन किया गया है, जिसकी प्राथमिक प्रक्रिया भी पूर्ण की जा चुकी है । मौके पर आवश्यक विधिक कार्यवाही करते हुए बालक को सीडब्लूसी वाराणसी के समक्ष प्रस्तुत किया। जहां सीडब्लूसी द्वारा बालक की काउंसलिंग करने के पश्चात बालक उसके परिजन के परवेक्षण में रखने हेतु आदेशित किया गया। गुमशुदा बालक को उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया। बच्चे के घर वापसी से पुरा परिवार व बच्चे के मोहल्ले में खुशी का माहौल है तथा कमिश्ररेट वाराणसी पुलिस को धन्यवाद देते हुए भूरि भूरि प्रशंसा कर रहे हैं। बच्चे की सकुशल बरामदगी करने वाली टीम में  कोतवाली थाना प्रभारी राजीव कुमार सिंह, अमियामंडी चौकी प्रभारी एसआई सुमन यादव व हेड कांस्टेबल जितेन्द्र यादव की प्रमुख भूमिका रही। 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story