बिजली कटौती: ओवरलोड से हेल्पलाइन नंबर भी व्यस्त, परेशान उपभोक्ताओं का एक समाधान, लेकिन वहां भी हाल बेहाल

uppcl
वाराणसी। भीषण तपिश के बीच बिजली की कटौती से जनजीवन बेहाल है। लोकल फॉल्ट और ट्रिपिंग के चलते भी बाधित होने वाली आपूर्ति कोढ़ में खाज का काम कर रही है। परेशान उपभोक्ता जब भी अपने संबंधित विद्युत उपकेंद्र का सीयूजी नंबर मिलता है तो अव्वल उठता नहीं। उठ गया तो सही जवाब नहीं मिलता। ऐसे में पावर कॉरपोरेशन के टोल फ्री नंबर का सहारा लेने की जुगत करता है, लेकिन वह भी नहीं मिलता। वजह, बढ़ती बिजली कटौती का लोड पावर कॉरपोरेशन के टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1912 पर भी जो दिख रहा है। 

बता दें कि पावर कॉरपोरेशन का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1912 लोगों की बिजली संबंधी शिकायतों और उनके निस्तारण के लिए जारी किया गया है। हालत यह है कि पिछले कई दिन से पावर कॉरपोरेशन के टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 1912 पर कॉल तक नहीं लग रही। ऐसे में भीषण गर्मी में बिजली संकट से जूझ रहे शहर और देहात के लोगों को दोबारा सप्लाई चालू होने की सटीक जानकारी भी नहीं मिल पा रही। इससे जुड़े अभियंताओं की मानें तो सामान्य दिनों में 1912 टोल फ्री नंबर पर रोजाना करीब 13500 से 14000 कॉल लोगों की रिसीव की जाती है। इस भीषण गर्मी के दिनों में लो-वोल्टेज, ट्रिपिंग, ब्रेकडाउन और शटडाउन के साथ लगातार बिजली कटौती के मामले बढ़ने पर टोल फ्री नंबर पर रोजाना आने वाली कॉल की संख्या 15500 से 16000 तक का आंकड़ा पार कर चुकी है।

ओवरलोड होने पर नहीं लगती कॉल

कॉल सेंटर से जुड़े कर्मचारियों की मानें तो टोल फ्री नंबर 1912 पर एक साथ 50 से 55 कॉल रिसीव करने की क्षमता है। आठ घंटे की एक शिफ्ट में इतने ही कर्मचारी ड्यूटी पर होते हैं। इससे अधिक कॉल आने पर फोन स्वत: ही कट जाता है। कई बार नंबर भी गलत बताने लगता है। ऐसे में लोगों के बार-बार फोन लगाने पर टोल फ्री 1912 नंबर पर कॉल कनेक्ट ही नहीं हो पाती। ऐसा टोल फ्री नंबर पर ओवरलोडिंग के चलते होता है। विभागीय सूत्रों की मानें तो टोल फ्री नंबर से संबंधित दुश्वारियों को दूर करने के लिए जिम्मेदार अफसर बराबर कॉल सेंटर का दौरा करते हैं। बावजूद इसके दुश्वारियां दूर होने का नाम नहीं ले रही। कॉल सेंटर में लोगों की कॉल कनेक्ट नहीं हो रही। विभागीय सूत्रों की मानें तो गर्मी में लोड होने से सर्वर भी बार-बार दिक्कत कर रहा है।

शहर के कई क्षेत्रों के उपभोक्ताओं का कहना है कि पिछले कई दिनों से घंटों बिजली कटी रही है। इसके बाद जब  संबंधित उपकेंद्र पर फोन किया जाता है, तो कॉल ही रिसीव नहीं होता है। फिर यूपी पावर कॉरपोरेशन के हेल्पलाइन नंबर-1912 पर कई बार कॉल किया जाता है, लेकिन वहां से भी बेहतर रिस्पांस नहीं मिल पता है। ।
 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story