ज्ञानवापी में चादर चढ़ाने और उर्स की मांग पर 20 अप्रैल को होगी सुनवाई, चार मुस्लिमों ने की है मांग

Gyanvapi survey
वाराणसी। सिविल जज सीनियर डिवीजन (एफटीसी) प्रशांत सिंह की अदालत ने मंगलवार को ज्ञानवापी में उर्स करने और चादर चढ़ाने के एक प्रकरण में सुनवाई टल गई। इस मामले में अगली सुनवाई 20 अप्रैल को होगी। वादी राखी सिंह की ओर से अधिवक्ता मानवहादुर सिंह और अनुपम द्विवेदी की ओर से पक्षकार बनाए जाने का मामला पहले ही लंबित है। 

जुलाई 2022 में लोहता के मुख्तार अहमद समेत चार मुस्लिमों ने अदालत में वाद दाखिल कर ज्ञानवापी स्थित मजार पर उर्स, चादर, गागर समेत अन्य धार्मिक कार्यों की अनुमति मांगी है। वादी की ओर से ये भी मांग की गई जिला व पुलिस प्रशासन को निर्देश दें कि धार्मिक आयोजन करने से न रोका जाये। मुकदमे में काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास, जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, उत्तर प्रदेश सरकार के साथ ही अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी को प्रतिवादी बनाया गया।
 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story