CM योगी तक पहुंचा 8 दिनों से लापता अधिवक्ता का मामला, मुख्यमंत्री ने पुलिस कमिश्नर को जल्द खुलासा करने का दिया निर्देश

advocate met cm yogi

वाराणसी। मंडुआडीह क्षेत्र से गायब अधिवक्ता सुरेंद्र पटेल के मामले में अधिवक्ताओं का प्रतिनिधिमंडल गुरुवार को सीएम योगी से मिला। दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे मुख्यमंत्री से अधिवक्ताओं ने मुलाकात की। इस दौरान उन्हें संदिग्ध परिस्थिति में अधिवक्ता के गायब होने और पुलिस की जांच से अवगत कराया गया। अधिवक्ताओं ने कहा कि एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस अब तक पता नहीं लगा सकी है। 

बनारस बार के अध्यक्ष अध्यक्ष अवधेश कुमार सिंह के नेतृत्व में दी सेंट्रल बार के अध्यक्ष मुरली सिंह, महामंत्री सुरेंद्र पांडेय, महामंत्री कमलेश यादव और पूर्व अध्यक्ष घनश्याम पटेल ने सीएम योगी से सर्किट हाउस में मुलाकात की। अधिवक्ताओं ने सीएम को बताया कि 27 मार्च को एक अधिवक्ता संदिग्ध परिस्थितियों में गायब होते हैं। अधिवक्ता ने अपने मोबाइल से भाई को मैसेज किया कि मेरी जान बचा लो। 

मामले की गंभीरता को देखते हुए परिजन पुलिस को अवगत कराते हैं। पुलिस की सक्रियता के बाद अधिवक्ता की बाइक तो मिल जाती है, लेकिन अभी तक पुलिस अधिवक्ता का कोई सुराग नहीं लगा पाई है। सीएम को अधिवक्ताओं ने अवगत कराया कि कचहरी में हम 10 हजार अधिवक्ता रहते हैं। पिछले 8 दिनों में बनारस बार और दी सेंट्रल बार के अधिवक्ताओं ने संयुक्त रूप से पुलिस कमिश्र्नर से मुलाकात की। लेकिन कोई सुलभ परिणाम नहीं निकला। अधिवक्ताओं ने हड़ताल किया, बावजूद उसके पुलिस अभी तक इस घटना का सुराग नहीं लगा पाई है। 

अधिवक्ताओं की शिकायत को संज्ञान में लेते हुए सीएम ने तत्काल पुलिस के अफसरों से पूछा कि अब तक अधिवक्ता को खोजा क्यों नहीं जा सका है? सीएम ने पुलिस कमिश्नर को प्रभावी तरीके से काम करके अधिवक्ता को यथाशीघ्र ढूंढने का निर्देश दिया।  
 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story