विकास प्राधिकरण की बड़ी कार्रवाई, 45 बीघा अवैध प्लाटिंग पर चलवाया बुलडोजर

vns

- सारनाथ, रामनगर और दशाश्वमेध वार्ड में प्रवर्तन दल ने की कार्रवाई 
- जेसीबी से ध्वस्त करा दिए गए सारे अवैध निर्माण, मौजूद रही पुलिस
- बिना नक्शा, ले-आउट पास कराए हो रहे निर्माण पर वीडीए की नजर 


वाराणसी। विकास प्राधिकरण की ओर से बिना नक्शा, ले-आउट पास कराए अवैध तरीके से कराए जा रहे निर्माण पर कार्रवाई जारी है। इसी क्रम में वीडीए प्रवर्तन दल ने मंगलवार को वाराणसी के सारनाथ, दशाश्वमेध और चंदौली के मुगलसराय में लगभग 45 बीघा क्षेत्रफल में कराई जा रही अवैध प्लाटिंग को जेसीबी से ध्वस्त करा दिया। प्राधिकरण की कार्रवाई से खलबली मची रही।  

vns
सारनाथ वार्ड के थाना-चौबेपुर, मिल्कोपुर, शंकरपुर में बिना ले-आउट स्वीकृत कराए कुन्दन सिंह व स्वतंत्र मिश्रा की ओर से लगभग पांच बीघा क्षेत्रफल में अवैध प्लाटिंग विकसित की जा रही थी। इसकी शिकायत मिलने पर प्रवर्तन टीम पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंची। वहीं अवैध प्लाटिंग को ध्वस्त करा दिया गया। जोनल अधिकारी संजीव कुमार, अवर अभियन्ता जयंप्रकाश गुप्ता, विनोद कुमार व प्रवर्तन दल सहित समस्त सुपरवाइजरों की उपस्थिति में साइन बोर्ड भी लगवाया गया। 

 

रामनगर वार्ड के मुगलसराय, मौजा-नाथूपुर में अज्ञात प्लाटिंगकर्ताओं की ओर से बिना ले-आउट स्वीकृत कराए लगभग 15 बीघा और कटेसर में 10 बीघा और पांच बीघा में अवैध प्लाटिंग विकसित की जा रही ती। संयुक्त सचिव परमानंद यादव, जोनल अधिकारी प्रकाश कुमार, अवर अभियन्ता पीएन दुबे के नेतृत्व में प्रवर्तन दल ने अवैध निर्माण को ध्वस्त कराया। वहीं साइन बोर्ड लगाया गया। 


इसी तरह की दशाश्वमेध वार्ड के रोहनिया थाना के दरेखू मौजा  में बिना ले-आउट स्वीकृत कराए रीता दुबे की ओर से लगभग 10 बीघा क्षेत्रफल में अवैध प्लाटिंग विकसित की जा रही थी। जोनल अधिकारी सौरव देव प्रजापति, अवर अभियन्ता अशोक त्यागी ने प्रवर्तन दल के साथ मौके पर पहुंचकर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई कराकर बोर्ड लगवाया। वीडीए उपाध्यक्ष ने लोगों से नक्शा, ले-आउट स्वीकृत कराकर ही निर्माण कराने की अपील की।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story