नीट यूजी परीक्षा निरस्त करने की मांग को लेकर एबीवीपी ने बीएचयू सिंह द्वार पर किया प्रदर्शन, एनटीए पर गड़बड़ी का आरोप 

vns

वाराणसी। नीट यूजी परीक्षा में धांधली को लेकर आक्रोश बढ़ता जा रहा है। सोमवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्यों ने बीएचयू सिंह द्वार पर विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान परीक्षा निरस्त करने की मांग की। वहीं एनटीए पर गड़बड़ी का आरोप लगाया। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने समझाकर उन्हें वापस भेजा। 


इस दौरान एबीवीपी सदस्य गजेंद्रमणि दुबे ने कहा कि नीट यूजी परीक्षा 2024 में इस वर्ष करीब 24 लाख छात्रों ने हिस्सा लिया था। इनमें से करीब 13 लाख छात्र पास हुए। वहीं इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब एक साथ 67 छात्रों को रैंक 1 हासिल हुई। वहीं एक ही सेंटर से 8 छात्रों को 720 में से 720 नंबर हासिल हुए। उन्होंने कहा कि एनटीए की नीट परीक्षा के स्कोर के आधार पर मेडिकल कॉलेजों में दाखिला मिलता है। इसलिए छात्र इस परीक्षा में अव्वल होने के लिए दिन-रात मेहनत करते हैं। तीन दिन पहले यानी कि 4 जून को नीट यूजी परीक्षा का रिजल्ट जारी किया गया। नतीजों के सामने आने के बाद से कई छात्र काफी नाराज दिख रहे हैं।

vns
नीट परीक्षा परिणाम आने के बाद सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लोगों का गुस्सा फूट रहा है। वे नीट रिजल्ट पर गुस्सा जता रहे हैं और अपने पोस्ट में एनटीए को टैग कर रहे हैं। दरअसल, लोगों का कहना है कि इस बार की नीट यूजी परीक्षा में कई गड़बडिय़ां हुई हैं, जिस कारण एक्स पर 'नीट परीक्षा रद्द करो हैशटैग की बाढ़ आ गई है।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story