फोर लेन होगा पाण्डेयपुर से रिंग रोड और कचहरी से संदहा मार्ग, डीएम ने 26 तक कार्ययोजना बनाने को कहा  

dm s rajlingam

वाराणसी। जिलाधिकारी एस. राजलिंगम ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट स्थित कार्यालय में विभागीय अधिकारियों के साथ शहर के ट्रैफिक संचालन को सुगम बनाने हेतु प्रस्ताव व कार्ययोजना पर चर्चा की और निर्देश दिये। उन्होंने पाण्डेयपुर चौराहा से रिंग रोड और कचहरी से संदहा मार्ग के 4 लेन चौड़ीकरण व सृदृढ़ीकरण कार्य की प्रगति की समीक्षा की।

dm s

जिलाधिकारी ने सबसे बड़ी समस्या ट्रैफिक संचालन को सुगम बनाने व सड़कों पर ट्रैफिक लोड कम करने के लिए रिंग रोड का शहर के मार्गों से कनेक्ट करने के लिए 8-10 कनेक्टिंग रोड बनाने का प्लान तैयार करने का निर्देश दिया था। उन्होंने ट्रैफिक पुलिस को उन स्थानों को चिन्हित करने पर जोर दिया जहां सड़कों के थोड़ी बहुत चौड़ीकरण की सम्भावना हो और जहां ट्रैफिक लाईट बढ़ाने से या फुट पेट्रोलिंग करने से यातायात सुगम हो सकता है। एसीपी यातायात द्वारा बताये जाने पर कि फ्लाईओवर बनाने का प्रस्ताव सेतु निगम को दिया गया है। जिलाधिकारी ने परियोजना प्रबन्धक सेतु निगम को निर्देशित किया कि इनको कार्ययोजना में सम्मिलित कर लिया जाय। इसके अतिरिक्त सेतु निगम द्वारा अपने स्तर से तैयार किये गये प्रस्तावों को भी कार्ययोजना में सम्मिलित करने का निर्देश दिया।

dm s rajlingam

उपाध्यक्ष वीडीए ने बताया कि शहर में लोक निर्माण विभाग की सड़कों पर जो डिवाइडर लगे हैं उनका सर्वे कर पुनः एडजस्ट किये जाने की आवश्यकता है। शहर में वरूणा नदी के दोनों किनारों पर इण्टर लाकिंग लगी है इसको आटो, दुपहिया एवं रिक्शा संचालन हेतु उपयोग किया जा सकता है। शहर के अन्दर लोक निर्माण विभाग की सड़कों पर जहां डिवाइडर नहीं है वहां नगर निगम से कार्य कराने के लिए विचार करने की बात नगर आयुक्त ने कही। जिलाधिकारी को बताया गया कि सर्किट हाउस पार्किंग की क्षमता 1500 दुपहिया वाहन के सापेक्ष 500 के लगभग ही वाहन पार्क हो पा रहे हैं। विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष, ने सुझाव दिया कि जिला जज कैम्पस के बाहर सड़कों पर जो अत्यधिक दुपहिया वाहन पार्क करने की स्थिति बनी हुई है उसे कम करने के लिए बार एसोशिएसन एवं भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा द्वारा संचालित वाहन स्टैण्ड का किराया दर सर्किट हाउस पार्किंग के निर्धारित किराये की तुलना में थोड़ा अधिक रहे।

ऐसे में सर्किट हाउस पार्किंग की पूरी क्षमता उपयोग में आ जायेगी और कचहरी चौराहे से निकलने वाली सड़कों पर यातायात सुगम हो सकेगा। प्रस्तावित रोप-वे के सम्बन्ध में उपाध्यक्ष वीडीए ने बताया कि इसमें अधिधारित 15 पिलर पर सरकारी भूमि व 15 पिलर सार्वजनिक भूमि पर पड़ रहे हैं। भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही के लिए अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) की अध्यक्षता में समिति गठित है। इस पर डीएम ने भूमि सम्बन्धी प्रकरणों को उच्च प्राथमिकता पर निस्तारित कराये जाने हेतु जिलाधिकारी ने निर्देशित किया। सहायक पुलिस आयुक्त, यातायात व नगर आयुक्त, नगर निगम द्वारा सुझाव दिया गया कि कैण्ट बस स्टैंड को शहर से बाहर स्थापित किया जायेगा। इससे शहर में यातायात सुगम हो सकेगा। ऐसे में डीएम ने शहर में संचालित सभी बस स्टैण्डों को शहर से बाहर स्थापित किये जाने के लिए कार्ययोजना बनाने का निर्देश दिया। सहायक पुलिस आयुक्त ने शहर के 4 फ्लाईओवर व वरूणा नदी पर पुल बनाये जाने के प्रस्ताव से अवगत कराया। इस पर डीएम ने लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता को निर्देश दिया कि यातायात पुलिस, सेतु निगम समेत अन्य विभागों के प्रस्तावों को संकलित कर 26 नवम्बर तक कार्ययोजना तैयार करा लें। ताकि इसका परीक्षण कर मंडलायुक्त को प्रस्तुत किया जा सके।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story