अब काशी से प्रयागराज तक जाएगा क्रूज़, यात्रियों के लिए मनोरंजन और बनारसी खान-पान का होगा पूरा इंतज़ाम 

अब काशी से प्रयागराज तक जाएगा क्रूज़, यात्रियों के लिए मनोरंजन और बनारसी खान पान का होगा पूरा इंतज़ाम 

वाराणसी। शिव की नगरी काशी से शक्ति की नगरी मिर्जापुर और संगम नगरी प्रयागराज तक जल्दी ही पर्यटक जल मार्ग से यात्रा कर पाएंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने काशी के गंगा में चलने वाली क्रूज़ का दायरा बढ़ा दिया है। अब ये क्रूज़ काशी से मिर्ज़ापुर  होते  हुए  प्रयागराज तक ले जाने का प्रस्ताव बनाया जा रहा है । 

मां विंध्यवासिनी के भी करायेगा दर्शन
क्रूज़  पर्यटकों को चुनार का किला माँ विन्ध्यवाश्नी के दर्शन और प्रयागराज भी  दिखाएगा। पर्यटक  लाइव म्यूजिक और बनारसी खान-पान के साथ गंगा की लहरों पर क्रूज़ का आनंद ले सकेंगे। अलकनन्दा क्रूज़ लाइन के डायरेक्टर विकास मालवीय ने बताया कि क्रूज़ को वाराणसी से प्रयागराज तक चलाने का प्लान बनाया रहा है। जो दो दिन की यात्रा होगी। पहला पड़ाव मिर्ज़ापुर होगा। जहा माँ विन्ध्यवासिनी के दर्शन कराया जाएगा  ऐतिहासिक चुनार के किले का भ्रमण कराय जाएगा। और अगले दिन प्रयागराज के लिए क्रूज़ रवाना होगी। यात्रा करीब 200 किलोमीटर की होगी। 

क्रूज़ में मनोरंजन और बनारसी खान पान का पूरा इंतज़ाम 
विकास मालवीय ने बताया कि क्रूज़ में मनोरंजन और बनारसी खान पान का पूरा इंतज़ाम अलकनंदा की ओर से रहेगा। सुबह नाश्ते से लेकर, दोपहर का खाना और शाम  का नास्ता भी रहेगा।  लाइव म्यूजिक का आनंद लेते हुए आप 200 किलोमीटर की गंगा यात्रा में धार्मिक दर्शन भी होगा। वही पर्यटक भारत की समृद्ध विरासत वाली ऐतिहासिक किला भी देखेंगे। साथ में अनुभवी टूरिस्ट गाइड की टीम भी होगी। जो इस यात्रा के धार्मिक, आध्यात्मिक और ऐतिहासिक पहलुओं की जानकारी भी देंगे।

क्रूज़  पूरी तरह वातानुकूलित 
उन्होंने बताया कि 15 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से चलने वाले इस क्रूज़ में दो फ्लोर है। क्रूज़ में  250 यात्रियों की क्षमता है। लेकिन यात्रियों की सहूलियत के लिए, इस यात्रा में 100 से 125 लोग ही क्रूज़  पर सवार होंगे। क्रूज़  पूरी तरह वातानुकूलित है। सुरक्षा की दृष्टि से ये क्रूज़ अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप है, और सुरक्षा के सभी उपकरणों से लैस है।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story