ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे : बोले जितेंद्र सिंह बिसेन- कल्पना से अधिक चीजें देखने को मिलीं 

JITENDR SINGH BISEN

रिपोर्ट : सोनू कुमार 

वाराणसी। ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे (Gyanvapi Mosque Survey) के लिए कोर्ट कमिश्नर (court commissioner) और 52 लोगों की टीम शनिवार की सुबह 8 बजे ज्ञानवापी परिसर (Gyanvapi Campus) पहुंची थी। सुबह 8 बजे से दोपहर 12 बजे तक चले सर्वे के बाद बाहर निकले विश्व वैदिक सनातन संघ (Vishwa Vedic Sanatan Sangh) के संस्थापक जितेंद्र सिंह बिसेन (Jitendra Singh Bisen) ने कहा कि बस इतना ही कहूंगा की कल्पना और सोच से अधिक चीजें देखने को मिलीं हैं। 

वहीं अधिवक्ताओं ने बताया कि सर्वे की कार्रवाई अभी और भी कई दिन चल सकती है क्योंकि अभी बाद कुछ ही तहखाने (Basement) का सर्वे किया गया है और अभी कई बाकी हैं। 

सर्वे की कार्रवाई के बाद बाहर निकले विश्व वैदिक सनातन संघ के संस्थापक जितेंद्र सिंह बिसेन (Jitendra Singh Bisen) ने कहा कि आज के सर्वे का काम पूरा हुआ है। दोनों पक्षों और प्रशासन ने सहयोग किया है। उन्होंने बताया कि अभी कल भी कार्रवाई होगी। इस दौरान उनसे जब पूछा गया की क्या कुछ अंदर देखने को मिला तो उन्होंने कहा कि कुछ कह नहीं सकता क्योंकि रिपोर्ट अभी कोर्ट में पेश होनी है पर बस इतना कहूंगा कि हमारी सोच से भी कहीं अधिक चीजें देखने को मिली हैं।

सर्वे (Survey) करके बाहर निकले वादी पक्ष के अधिवक्ता सुभाष नंदन चतुर्वेदी (Advocate Subhash Nandan Chaturvedi) ने बताया कि सर्वे की कार्रवाई सुचारू रूप से हुई है। आज हमने कई तहखानों का सर्वे किया है और अभी कई तहखाने बाकी हैं। कल सुबह 8 बजे फिर सर्वे की करवाई शुरू की जायेगी। उन्होंने बताया कि अभी कई तहखाने हैं जिनका सर्वे किया जाना बाकी है।  उन्होंने बताया कि अभी कई दिनों तक सर्वे चल सकता है। सुभाष नंदन चतुर्वेदी ने बताया कि अंदर दोनों पक्षों और जिला प्रशासन (District Administration) के साथ ही साथ वाराणसी पुलिस का भरपूर सहयोग मिला। 

सुभाष नंदन चतुर्वेदी ने कहा कि सारी कार्रवाई सकरात्मक और सुगम तरीके से व्यवस्थित होकर चला। कहीं भी किसी तरह की अड़चन नहीं आयी है। कई तहखाने में गए सब कुछ ठीक है। कहीं कोई भी जहरीला सांप (Poisonous snake) नहीं मिला है यह सब अफवाह है। 

वहीं एक अन्य अधिवक्ता सुधीर त्रिपाठी ने बताया कि सर्वे की कार्रवाई चार घंटे लगातार चली जिसमे पक्ष, विपक्ष और शासन के सहयोग से सर्वे हुआ है। किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं हुई है। अंदर बहुत कुछ मिला है और यह सब रिपोर्ट में डिस्कोलज किया जाएगा। वहीं कुछ देर पहले उठी अफवाह की सपेरे (snake charmer) को अंदर ले जाया गया है और अंदर सांप मिला है का पटाक्षेप करते हुए अधिवक्ता ने कहा कि अफवाह न फैलाइये ऐसा कुछ नहीं था अंदर की सपेरे को बुलाया जाए।

देखें वीडियो 

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story