ढाका-अरिचा राजमार्ग पर आग लगने की घटना के बाद डीपीएल के दो मैच स्थगित

ढाका-अरिचा राजमार्ग पर आग लगने की घटना के बाद डीपीएल के दो मैच स्थगित
ढाका-अरिचा राजमार्ग पर आग लगने की घटना के बाद डीपीएल के दो मैच स्थगित


ढाका, 2 अप्रैल (हि.स.)। ढाका-अरिचा राजमार्ग पर आग लगने की घटना के बाद मंगलवार को सावर के बीकेएसपी मैदान में ढाका प्रीमियर लीग के दो मैचों को स्थगित करना पड़ा। टूर्नामेंट अधिकारियों के अनुसार सभी चार टीमें ढाका-अरिचा राजमार्ग पर घंटों तक यातायात में फंसी रहीं, जिसके बाद मैच स्थगित करना पड़ा।

ईएसपीएन क्रिकइंफो के अनुसार, दोनों मैच बुधवार को स्थानांतरित कर दिए गए हैं, जबकि बुधवार को पहले से निर्धारित मैच गुरुवार को होंगे। बीकेएसपी-3 मैदान पर शेख जमाल धानमंडी क्लब और लीजेंड्स ऑफ रूपगंज के बीच और बीकेएसपी-4 मैदान पर प्राइम बैंक क्रिकेट क्लब और पार्टेक्स स्पोर्टिंग क्लब के बीच मैच थे। उन्हें स्थानीय समयानुसार सुबह 9 बजे शुरू होना था।

समाचार रिपोर्टों के अनुसार, मंगलवार सुबह 5.30 बजे ढाका-अरिचा राजमार्ग पर हेमायतपुर बस स्टैंड के पास एक तेल लॉरी के पलट जाने से उसमें आग लग गई। पास के चार अन्य ट्रकों और एक निजी कार में भी आग लग गई।

सावर की अग्निशमन सेवा और नागरिक सुरक्षा स्टेशन अधिकारी मोहम्मद नुरुल इस्लाम ने स्थानिय समाचार पत्र दैनिक प्रोथोम अलो को बताया कि दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई है, जबकि आठ अन्य को शेख हसीना नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बर्न एंड प्लास्टिक सर्जरी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दुर्घटना के कारण सड़क के दोनों ओर के क्षेत्र में भारी तबाही मच गई। चारों टीमें करीब 25 किमी दूर सावर आयोजन स्थलों तक पहुंचने की कोशिश कर रही थीं। टीमें आमतौर पर शहर के गबटोली क्षेत्र से बाहर निकलते हुए, ढाका-अरिचा राजमार्ग लेती हैं।

ढाका लीग में बीकेएसपी मैच अक्सर टीमों के लिए सिरदर्द होते हैं क्योंकि यह राजधानी से 40 किमी दूर है। सुरजो तरूण क्लब और क्रिकेट कोचिंग स्कूल (सीसीएस) को क्रमशः 2012 और 2013 में बीकेएसपी में अपने डीपीएल मैचों के लिए देर से पहुंचने के बाद ढाका प्रीमियर लीग से हटा दिया गया था।

मोहम्मडन स्पोर्टिंग क्लब और कलाबागान क्रिरा चक्र भी 2018 में एक डीपीएल मैच के लिए देर से पहुंचे थे। हालांकि, तब तक, ढाका मेट्रोपोलिस की क्रिकेट समिति (बीसीबी निकाय जो लीग चलाती है) ने इससे बचने के लिए टूर्नामेंट उपनियमों में ऐसी ही घटना के लिए एक खंड जोड़ा। यह खंड मैच रेफरी को मामले पर विचार करने का अधिकार देता है।

सीसीडीएम अधिकारियों के मुताबिक, अगर कोई टीम मैच रेफरी को मैदान पर देर से आने का कारण बताती है और मैच रेफरी को इसमें तर्क मिलता है, तो वह खेल देर से शुरू कर सकता है।

हिन्दुस्थान समाचार/ सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story