आरपीएफ प्रयागराज डिवीजन ने जीती विभागीय वॉलीबाल प्रतियोगिता की ट्रॉफी

आरपीएफ प्रयागराज डिवीजन ने जीती विभागीय वॉलीबाल प्रतियोगिता की ट्रॉफी
आरपीएफ प्रयागराज डिवीजन ने जीती विभागीय वॉलीबाल प्रतियोगिता की ट्रॉफी


-तीन दिवसीय अंतर विभागीय रेलवे पुरुष वॉलीबाल प्रतियोगिता सम्पन्न

-उत्तर मध्य रेलवे के मैकेनिकल विभाग की वॉलीबाल टीम बनी उपविजेता

प्रयागराज, 15 मई (हि.स.)। उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज डिवीजन के मंडलीय खेलकूद संघ द्वारा डीएसए ग्राउंड में 12 से 14 मई तक आयोजित तीन दिवसीय “अंतर विभागीय रेलवे पुरुष वॉलीबाल प्रतियोगिता“ हुई। जिसमें आरपीएफ की टीम ने मैकेनिकल विभाग की टीम को दोनों सेटों में 25-16 और 25-19 अंकों से हराकर अंतर विभागीय रेलवे पुरुष वॉलीबाल प्रतियोगिता पर कब्जा कर ट्रॉफी अपने नाम कर ली।

प्रतियोगिता में रेलवे के विभिन्न विभागों की कुल 10 टीमों ने प्रतिभाग किया। देर रात्रि खेले गए वॉलीबाल प्रतियोगिता का फाइनल मुकाबला आरपीएफ प्रयागराज डिवीजन व मैकेनिकल विभाग के बीच खेला गया। विजेता टीम आरपीएफ की ओर से ओमवीर सिंह, भदौरिया, नरेश सिंह व सुरजीत सिंह तथा उपविजेता टीम मैकेनिकल विभाग की ओर से अमरदीप सिंह, शैलेंद्र यादव व श्रीनाथ शर्मा का खेल सराहनीय रहा। प्रतियोगिता में फूलचंद गुप्ता, अल्ताफ अली, बैजनाथ त्रिपाठी, रवि वर्मा व मुकेश शुक्ला ने निर्णायक रेफरी की भूमिका अदा की।

इसके पूर्व खेले गए प्रतियोगिता के प्रथम सेमीफाइनल में रेलवे के मैकेनिकल विभाग की टीम ने आपरेटिंग विभाग की टीम को 25-18, 15-25 और 25-19 अंकों से हराकर तथा दूसरे सेमीफाइनल मैच में आरपीएफ.प्रयागराज डिवीजन ने इंजीनियरिंग विभाग को 21-25, 25-15 और 25-17 अंकों से हराकर फाइनल में प्रवेश किया था। प्रतियोगिता का समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज डिवीजन के डीआरएम हिमांशु बड़ोनी के मुख्य आतिथ्य में हुआ।

मुख्य अतिथि ने प्रतियोगिता की विजेता वॉलीबाल टीम आरपीएफ प्रयागराज डिवीजन को व उपविजेता मैकेनिकल विभाग की टीम को ट्रॉफी प्रदान की। उत्तर मध्य रेलवे के स्पोर्ट्स ऑफिसर आशुतोष शर्मा ने विजेता, उपविजेता टीम व निर्णायकों को व्यक्तिगत पुरस्कार प्रदान किया। रेलवे के मंडलीय खेलकूद सचिव धर्मेंद्र निषाद ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया। उक्त अवसर पर विशेष अतिथि जिला वॉलीबाल संघ के अवैतनिक महासचिव आर.पी.शुक्ला को उत्तर मध्य रेलवे के डीआरएम हिमांशु बड़ोनी ने स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया।

फाइनल मैच के दौरान मुख्य रूप से सीनियर डीपीओ मनीष खरे, सीनियर डीएससी विजय प्रकाश पंडित, राकेश मिश्रा, राजकुमार यादव, शहजाद अहमद, अनुदीप कुमार, रणविजय सिंह, गनेश कुमार, आयुष सिंह, राकेश मिश्रा, मिथलेश कुमार, राजू पाल, मो.फैज खां, डॉ.एस.पी.शर्मा, वीरेंद्र सिंह, अतुल सिद्धार्थ, डॉ.परवेज अहमद व सुरेश शर्मा आदि उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त/सियाराम

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story