पेरिस ओलंपिक टेनिस: रोहन बोपन्ना, सुमित नागल ने भारत के लिए कोटा हासिल किया

पेरिस ओलंपिक टेनिस: रोहन बोपन्ना, सुमित नागल ने भारत के लिए कोटा हासिल किया
पेरिस ओलंपिक टेनिस: रोहन बोपन्ना, सुमित नागल ने भारत के लिए कोटा हासिल किया


नई दिल्ली, 11 जून (हि.स.)। टेनिस स्टार रोहन बोपन्ना और सुमित नागल ने क्रमशः युगल और एकल प्रतियोगिता में एसोसिएशन ऑफ टेनिस प्रोफेशनल्स (एटीपी) रैंकिंग के जरिए भारत के लिए पेरिस ओलंपिक 2024 कोटा हासिल कर लिया है।

टेनिस के लिए पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफिकेशन विंडो सोमवार को समाप्त हो गई और दुनिया के चौथे नंबर के खिलाड़ी बोपन्ना ने आराम से अपना कोटा हासिल कर लिया, जो पिछले साल नवंबर से युगल प्रतियोगिता के शीर्ष 10 में शामिल हैं।

पिछले हफ्ते एकल रैंकिंग में 18 स्थानों की छलांग लगाने के बाद नागल ने भी कोटा हासिल किया। ओलंपिक डॉट कॉम के अनुसार, रविवार को जर्मनी के हीलब्रॉन नेकरकप में एटीपी चैलेंजर खिताब जीतने के बाद नागल 95वें स्थान से करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग 77वें स्थान पर पहुंच गए।

पेरिस 2024 में पुरुष और महिला एकल स्पर्धा में 64-64 खिलाड़ी भाग लेंगे। 10 जून को जारी एटीपी रैंकिंग के अनुसार पुरुष एकल स्पर्धा के शीर्ष 56 खिलाड़ियों को अपने कोटा मिल गए हैं। प्रत्येक देश अधिकतम चार कोटा हासिल कर सकता है।

फ्रांस के पास मेजबान देश के तौर पर एक कोटा स्थान आरक्षित था, ताकि अगर उनका कोई भी खिलाड़ी रैंकिंग के ज़रिए ओलंपिक में सीधे स्थान हासिल न कर पाए तो उसे यह स्थान मिल सके। लेकिन चूंकि फ्रांस ने अपनी रैंकिंग के ज़रिए सभी चार पुरुष एकल कोटा हासिल कर लिए थे, इसलिए मेजबान देश के कोटे को पूल में वापस जोड़ दिया गया और कट-ऑफ 56 से बढ़कर 57 खिलाड़ी हो गया।

नागल हालांकि रैंकिंग में 77वें स्थान पर हैं, लेकिन विश्व रैंकिंग के जरिए कोटा हासिल करने वाले पात्र खिलाड़ियों में वह अंतिम स्थान पर हैं।

टोक्यो 2020 ओलंपिक में भारत के लिए खेलने वाले नागल जनवरी में रैंकिंग में 138वें स्थान पर थे। उन्होंने इस साल की शुरुआत में चेन्नई ओपन में खिताब जीतकर एटीपी के शीर्ष 100 में जगह बनाई।

ओलंपिक टेनिस के लिए, दुनिया भर की राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों (एनओसी) को 19 जुलाई तक कोटा के उपयोग की पुष्टि करनी होगी। उनके पास बहु-खेल आयोजन में अपने देशों का प्रतिनिधित्व करने का विशेष अधिकार है और खेलों में एथलीटों की भागीदारी इस बात पर निर्भर करेगी कि वे ओलंपिक में देश के ध्वज का प्रतिनिधित्व करने वाले एथलीटों का चयन कैसे करते हैं।

इस बीच, युगल स्पर्धा में पुरुष और महिला वर्ग में 32-32 टीमें भाग लेंगी, जिसमें प्रत्येक देश से दो टीमें होंगी। इस स्पर्धा के लिए अर्हता प्राप्त करने वाले पहले खिलाड़ी युगल रैंकिंग में शीर्ष 10 खिलाड़ी थे, बशर्ते उनके पास युगल प्रतियोगिता के शीर्ष 300 में कोई साथी उपलब्ध हो।

बोपन्ना द्वारा ओलंपिक के लिए विश्व के 67वें नंबर के खिलाड़ी श्रीराम बालाजी को अपना साथी चुनने की उम्मीद है, बशर्ते कि कोटा एनओसी द्वारा पुष्टि कर दिया गया हो।

44 वर्षीय बोपन्ना ने जनवरी में ऑस्ट्रेलियन ओपन ग्रैंड स्लैम जीता और पिछले सप्ताह फ्रेंच ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचे। बोपन्ना ने लंदन 2012 खेलों और रियो 2016 में भारत का प्रतिनिधित्व किया, लेकिन टोक्यो 2020 ओलंपिक के लिए अर्हता प्राप्त करने से चूक गए थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story