भारत की पहली राज्य संघ द्वारा संचालित महिला फ्रेंचाइजी टी20 लीग की मेजबानी करेगा बंगाल

भारत की पहली राज्य संघ द्वारा संचालित महिला फ्रेंचाइजी टी20 लीग की मेजबानी करेगा बंगाल
भारत की पहली राज्य संघ द्वारा संचालित महिला फ्रेंचाइजी टी20 लीग की मेजबानी करेगा बंगाल


कोलकाता, 3 अप्रैल (हि.स.)। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल [सीएबी] ने इस साल जून में बंगाल प्रो टी20 टूर्नामेंट के लॉन्च की घोषणा की है। इस टूर्नामेंट का आयोजन पुरुष और महिला दोनों वर्गों में किया जाएगा। महिलाओं का आयोजन भारत में किसी एसोसिएशन द्वारा संचालित होने वाला पहला पूर्ण महिला फ्रेंचाइजी टी20 टूर्नामेंट होगा।

सीएबी के अध्यक्ष स्नेहाशीष गांगुली ने मंगलवार को कोलकाता के ईडन गार्डन्स में एक प्रेस वार्ता में दोनों लीगों की बुनियादी जानकारी प्रदान की।

गांगुली ने कहा कि यह टूर्नामेंट जून में 21 दिनों तक चलेगा, जिसमें पुरुष और महिला दोनों स्पर्धाओं में आठ टीमें शामिल होंगी। पुरुष टीमों में 17 खिलाड़ी होंगे, और महिला टीमों में 16 खिलाड़ी होंगे, और सभी खिलाड़ी और कोच बंगाल से होंगे। पुरुषों के मैच ईडन गार्डन्स में और महिलाओं के मैच जादवपुर विश्वविद्यालय मैदान पर होंगे, जो वरिष्ठ घरेलू खेलों के लिए एक नियमित स्थल भी है। हर दिन एक डबल-हेडर दिन है महिलाओं के मैच सुबह और दोपहर में आयोजित किए जाएंगे, पुरुषों के मैच दोपहर और शाम को होंगे भ्रष्टाचार के मामलों सहित सभी नियम आईपीएल में उपयोग में आने वाले नियमों पर आधारित होंगे।

गांगुली ने कहा, सभी आठ टीमें फ्रेंचाइजी के स्वामित्व वाली होंगी, जो कि पहली बार (भारत में राज्य संघ द्वारा संचालित टूर्नामेंट के लिए) होगा। हमने अभी भी फ्रेंचाइजी को अंतिम रूप नहीं दिया है, जिसकी घोषणा बाद में की जाएगी। टीमों का स्वामित्व पूरी तरह से फ्रेंचाइजी के पास होगा और सभी खिलाड़ियों को वेतन सीमा के अनुसार भुगतान किया जाएगा। सीएबी लीग के लिए कोई खर्च नहीं उठाएगा।

गांगुली ने कहा, लंबे समय से यह आलोचना हो रही थी कि बंगाल के क्रिकेटरों को तमिलनाडु या कर्नाटक जैसे मौके नहीं मिल रहे हैं। यह इसका जवाब होगा। बंगाल में बहुत प्रतिभा है लेकिन उनके पास अब तक उचित मंच नहीं था। यह उनके लिए एक आदर्श लॉन्च पैड होगा।

बता दें कि तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन [टीएनसीए] भी अपने पुरुषों की तमिलनाडु प्रीमियर लीग की तर्ज पर एक महिला टी20 लीग की योजना बना रहा है, लेकिन यह समझा जाता है कि यह इस साल धरातल पर नहीं उतरेगी।

हिन्दुस्थान समाचार/ सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story